Top

अब अन्ना हजारे में जागी पद्मभूषण वापस करने की तमन्ना

केंद्र की सरकार की नीतियों के खिलाफ अनशन कर रहे गांधीवादी अन्ना हजारे ने कहा कि वे 8 या 9 तारीख को राष्ट्रपति को अपना पद्मभूषण लौटा देंगे। उन्होंने कहा कि समाज और देश सेवा के लिए ये पुरस्कार मुझे दिया गया था। लेकिन, अगर देश की ऐसी हालत है तो मेरा मेरा मन कहता है कि मैं इस पुरस्कार का क्या करूं। 

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 Feb 2019 5:24 AM GMT

अब अन्ना हजारे में जागी पद्मभूषण वापस करने की तमन्ना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : केंद्र की सरकार की नीतियों के खिलाफ अनशन कर रहे गांधीवादी अन्ना हजारे ने कहा कि वे 8 या 9 तारीख को राष्ट्रपति को अपना पद्मभूषण लौटा देंगे। उन्होंने कहा कि समाज और देश सेवा के लिए ये पुरस्कार मुझे दिया गया था। लेकिन, अगर देश की ऐसी हालत है तो मेरा मेरा मन कहता है कि मैं इस पुरस्कार का क्या करूं।

ये भी देखें : लोकपाल की मांग को लेकर रालेगण सिद्धी में अन्ना हजारे का अनशन शुरू

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने आम जनता के विश्वास को तोड़ा है।

ये भी देखें : घोटालेबाजों को पकड़ना लोकतंत्र के खिलाफ साबित कर रहीं हैं ममता

आपको बता दें, अन्ना बुधवार से रालेगण सिद्धि में अनशन कर रहे हैं। अन्ना ने कहा है कि अगर मुझे कुछ भी होता है तो लोग पीएम मोदी को ही इसका जिम्मेदार ठहराएंगे।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story