Top

पाकिस्तान बंटवारे के बाद आज करने जा रहा ये बड़ा काम

श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व बहुत बड़ा पर्व माना जाता है। पाकिस्तान सरकार ने श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर बंद पड़े कई ऐतिहासिक गुरुद्वारों को संगत के लिए खोलने का प्रयास कर रही है।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 12 July 2019 3:57 AM GMT

पाकिस्तान बंटवारे के बाद आज करने जा रहा ये बड़ा काम
X
gurudwara khara sahib
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाश पर्व बहुत बड़ा पर्व माना जाता है। पाकिस्तान सरकार ने श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर बंद पड़े कई ऐतिहासिक गुरुद्वारों को संगत के लिए खोलने का प्रयास कर रही है। पाकिस्तान के गुजरांवाला में स्थित छठे गुरु श्री हरिगोबिंद साहिब की चरण स्पर्श प्राप्त पावन धरती गुरुद्वारा श्री खारा साहिब को 12 जुलाई को संगत के लिए खोला जाएगा।

यह भी देखें... ऐसा लग रहा कि भाजपा लोकतंत्र खत्म करने के लिए सत्ता में आई हैः गुलाम नबी आजाद

विभाजन के बाद से ही बंद पड़े इस गुरुद्वारे को संगत के दर्शनों के लिए दोबारा खोलने के लिए पाकिस्तान की पंजाबी सिख संगत ने भूमिका निभाई है। इस गुरुद्वारें की कहानी कुछ इस प्रकार है, जिस जगह आज गुरूद्वार स्थित हैं उस क्षेत्र का पानी कभी बहुत खारा होता था, जिस कारण वहां बीमारियां फैल रही थी। संगत के आग्रह पर गुरु साहिबान वहां आए।

तीन दिन तक संगत को नाम सिमरन करवाया और वहां का पानी मीठा हो गया। गुरु साहिब तीन दिन तक उसी स्थान पर रहे जहां गुरुद्वारा स्थापित है। गुरुद्वारे साहिब का ऐतिहासिक भवन बहुत ही शानदार बना हुआ है। इस गुरुद्वारा साहिब के भवन का जीर्णोद्धार प्रकाश पर्व से पहले कर दिया जाएगा।

यह भी देखें... पापुआ न्यूगिनी में भूकंप के झटके, 6.0 थी तीव्रता

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story