लोकसभा का पहला सत्र आज से, इन अहम बिलों और बजट पर रहेगी निगाहें

17वीं लोकसभा का पहला सत्र सोमवार से शुरू हो रहा है। सत्र शुरू होने के साथ ही सांसदों को उनके पद और गोपनीयता की शपथ दिलवाई जाएगी। इस सत्र में कई बातें नई होंगी।

नई दिल्ली: 17वीं लोकसभा का पहला सत्र सोमवार से शुरू हो रहा है। सत्र शुरू होने के साथ ही सांसदों को उनके पद और गोपनीयता की शपथ दिलवाई जाएगी। इस सत्र में कई बातें नई होंगी। इस बार ऐसे कई चेहरे संसद में नहीं दिखाई देंगे, जो दशकों तक लोकसभा या राज्यसभा में अपनी छाप छोड़ते आए हैं। इनमें अरुण जेटली, सुषमा स्वराज शामिल हैं। इस सत्र में तीन तलाक सहित कई अहम बिलों और 5 जुलाई को पेश होने जा रहे आम बजट पर भी निगाहें होंगी।

यह भी देखें… J-K: अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़

संसदीय कार्य मंत्री द्वारा आयोजित सर्वदलीय बैठक में पीएम ने अहम बिलों और विकास के मुद्दे पर विपक्ष का सहयोग मांगा। उन्होंने सदन को सुचारू रूप से चलाने में मदद मांगी और हर मुद्दे पर चर्चा कराने का आश्वासन दिया।

संसद में नहीं दिखेंगे ये दिग्गज

बीजेपी के दिग्गज नेताओं में शुमार लाल कृष्‍ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और सुषमा स्वराज अब संसद में नजर नहीं आएंगे। तीनों ने ही इन चुनावों में न खड़े होने का फैसला किया था। इसके साथ ही पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन और उमा भारती भी चुनाव न लड़ने के कारण संसद में दिखाई नहीं देंगी।

वहीं, कांग्रेस के दिग्गज नेता मल्लिकार्जुन खड़गे लोकसभा चुनाव हार जाने के चलते संसद तक नहीं पहुंच सके हैं। इसके साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी परंपरागत सीट गुना गवां चुके हैं। वहीं पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का भी राज्यसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है और उन्होंने चुनाव भी नहीं लड़ा है। ऐसे में सिंह भी अब संसद में नहीं दिखाई देंगे। पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा भी लोकसभा चुनाव हार गए हैं। ऐसे में वे भी संसद तक नहीं पहुंच सके हैं।

कांग्रेस का नेता घोषित नहीं

संसद का सत्र आज से शुरू हो रहा है और अभी तक कांग्रेस ने सदन में अपने नेता की घोषणा नहीं की है। इस संबंध में कांग्रेस के नेता पीएल पुनिया ने एक चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि अभी समय है, लोकसभा 20 जून से ही वास्तविक तौर पर काम करेगी। शुरू के दिनों में तो नए सदस्यों को शपथ दिलवाने और प्रशासनिक कार्यों में ही बीतेगा।

यह भी देखें… बेंगलुरु: येलहंका के अट्टुर लेआउट में लगी आग, कोई हताहत नहीं

5 जुलाई को आएगा बजट

संसद का सत्र शुरू होने के बाद 5 जुलाई को नई सरकार अपना पहला बजट पेश करेगी। इस दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण सदन में बजट पेश करेंगी और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के बाद ऐसा करने वाली वह पहली वित्त मंत्री होंगी।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App