×

साल में सबसे कम कीमत पर पेट्रोल-डीजल: यहां एक लीटर का दाम जान हो जाएंगे हैरान

अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर क्रूड आयल की कीमतों में आयी गिरावट की वजह से  शुक्रवार के मुकाबले शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल-डीजल के दाम फिर से गिर गए है। 25 जनवरी यानी शनिवार को एक लीटर पेट्रोल 27 पैसे सस्ता होकर 74.16 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर आ गया है।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 25 Jan 2020 5:37 AM GMT

साल में सबसे कम कीमत पर पेट्रोल-डीजल: यहां एक लीटर का दाम जान हो जाएंगे हैरान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: पेट्रोल-डीजल की कीमतों में उतार-चढ़ाव के बीच इस बार चीन के जानलेवा कोरोना वायरस की वजह से घटी कच्चे तेल की डिमांड के चलते अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर क्रूड की कीमतें लगातार गिर रही है। जिसका असर भारत में देखने को मिला रहा है।

एक लीटर पेट्रोल 27 पैसे सस्ता होकर 74.16 रुपये प्रति लीटर हुआ

बात दें कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर क्रूड आयल की कीमतों में आयी गिरावट की वजह से शुक्रवार के मुकाबले शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल-डीजल के दाम फिर से गिर गए है। 25 जनवरी यानी शनिवार को एक लीटर पेट्रोल 27 पैसे सस्ता होकर 74.16 रुपये प्रति लीटर के स्तर पर आ गया है। वहीं, डीज़ल 30 पैसे सस्ता होकर 67.31 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

ये भी देखें : सेना के साथ हिंसक झड़प: 20 नागरिक घायल, मौके पर अफरातफरी का माहौल

जनवरी में पेट्रोल 1.85 रुपये प्रति लीटर हुआ सस्ता

आपको बता दें कि नए साल के पहले महीने जनवरी में पेट्रोल की अधिकतम कीमत 76.01 रुपये तक पहुंच गई थी। इस लिहाज से अब तक पेट्रोल 1.85 रुपये प्रति लीटर सस्ता हो गया है।

12 जनवरी के बाद से पेट्रोल-डीजल की कीमत लगातार घटी है। पिछले 14 दिनों में पेट्रोल 1.85 रुपये और डीजल 1.86 रुपये सस्ता हुआ है। इंटरनेशनल मार्केट में क्रूड ऑयल का भाव घटकर 60.62 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक मुंबई में एक लीटर पेट्रोल के दाम 79.76 रुपये प्रति लीटर हो गए है। वहीं, डीज़ल के दाम 70.56 रुपये प्रति लीटर है।

कोरोना वायरस से क्रूड आयल का क्या है कनेक्शन

भारत की तरह चीन भी अपनी जरूरत का 90 फीसदी क्रूड ऑयल यानी कच्चा तेल विदेशी बाजार से खरीदता है। आंकड़ों के मुताबिक, साल 2019 में चीन ने रिकॉर्ड 50.6 करोड़ टन कच्चा तेल खरीदा था।

क्रूड आयल के 3 डॉलर प्रति बैरल तक सस्ता होने की उम्मीद

गोल्डमैन सैक्स की रिपोर्ट के मुताबिक, मौजूदा वायरस के चलते चीन में डिमांड गिर सकती हैं। लिहाजा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रूड के 3 डॉलर प्रति बैरल तक सस्ता होने की उम्मीद है।

आपको बता दें कि जनवरी महीने में ब्रेंट क्रूड की कीमतें 70 डॉलर प्रति बैरल से गिरकर 60 डॉलर प्रति बैरल पर आ गई हैं। इस हिसाब से 1 जनवरी से 24 जनवरी तक कच्चा तेल 12 फीसदी तक सस्ता हो गया है।

ये भी देखें : सेना के साथ हिंसक झड़प: 20 नागरिक घायल, मौके पर अफरातफरी का माहौल

ऐसे तय होते हैं पेट्रोल-डीज़ल के दाम

जिस कीमत पर हम पेट्रोल पंप से पेट्रोल खरीदते हैं उसका करीब 48 फीसदी बेस प्राइस यानी आधार मूल्य होता है। इसके बाद बेस मूल्य पर करीब 35 फीसदी एक्साइज ड्यूटी, 15 फीसदी सेल्स टैक्स और दो फीसदी कस्टम ड्यूटी लगाई जाती है।

क्या है ईंधन का बेस प्राइस? तेल के बेस प्राइस में कच्चे तेल की कीमत (क्रूड), प्रोसेसिंग चार्ज और कच्चे तेल को रीफाइन करने वाली रिफाइनरियों का चार्ज शामिल होता हैं।

अब तक फ्यूल प्राइस को GST में शामिल नहीं किया गया है। इस वजह से इस पर एक्साइज ड्यूटी भी लगती है और वैट भी। केंद्र सरकार पेट्रोल की बिक्री पर एक्साइज ड्यूटी वसूलती है, जबकि राज्य सरकारें वैट वसूलती हैं।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story