×

G-20 समिट की बैठक शुरू, PM मोदी ने चीन के सामने उठाया PoK का मुद्दा

जी-20 समिट में हिस्सा लेने पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार को वियतनाम से सीधे बीजिंग पहुंचे। पीएम मोदी यहां चीन के प्रेसिडेंट शी जिनपिंग और अमेरिका के प्रेसिडेंट बराक ओबामा के साथ साथ दुनियाभर के बड़े नेताओं से भी मुलाकात करेंगे। हेग कोर्ट की तरफ से साउथ चाइना सी पर फैसले के बाद भारत के रूख समेत शी जिनपिंग और पीएम मोदी की मुलाकात के दौरान चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारा और एनएसजी का मुद्दा भी उठ सकता है।

tiwarishalini

tiwarishaliniBy tiwarishalini

Published on 3 Sep 2016 4:29 PM GMT

G-20 समिट की बैठक शुरू, PM मोदी ने चीन के सामने उठाया PoK का मुद्दा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बीजिंग: जी-20 समिट की बैठक शुरू हो गई है। इसमें हिस्सा लेने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी शनिवार को वियतनाम से सीधे बीजिंग पहुंच गए थे। मोदी ने यहां आस्ट्रेलिया के पीएम मैल्कम टर्नबुल, चीन के प्रेसिडेंट शी जिनपिंग और अमेरिका के प्रेसिडेंट बराक ओबामा के साथ ही दुनियाभर के कई बड़े नेताओं से भी मुलाकात की। पीएम मोदी ने जी-20 समिट में चीन के सामने पाक अधिकृत कश्मीर में चीनी कॉरिडोर का मुद्दा उठाया और पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि सभी को मिलकर आतंकवाद के सप्लायर्स की पहचान करनी चाहिए।

यह भी पढ़ें ... वियतनाम में MODI का भव्‍य स्‍वागत, डिफेंस समेत दोनों देशों के बीच 12 समझौते

हेग कोर्ट की तरफ से साउथ चाइना सी पर फैसले के बाद भारत के रूख समेत शी जिनपिंग और पीएम मोदी की मुलाकात के दौरान चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारा और एनएसजी का मुद्दा भी उठ सकता है।

पीएम मोदी और शी जिनपिंग के बीच कई मुद्दों पर बातचीत होगी। जिसमें पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठनों को यूएस की प्रतिबंधित सूची में डलवाने और एनएसजी में भारत की मेम्बरशिप के प्रयास को बीजिंग द्वारा अवरूद्ध किए जाने के विषय शामिल होंगे।



-साउथ चाइना सी पर प्रभुत्व को लेकर चीन और वियतनाम के बीच विवाद को लेकर भी पीएम मोदी का यह दौरा अहम है।

-तीन महीने में पीएम नरेंद्र मोदी की चीन के प्रेसिडेंट शी जिनपिंग के साथ यह से दूसरी मुलाकात है।

-चीन का मानना है कि वियतनाम और साउथ चाइना सी पर पीएम मोदी की अप्रोच एग्रेसिव है।





आगे की स्लाइड में पढ़िए ... J&K: युवाओं को मुख्यधारा में लाने की कोशिश, खेलों के लिए PM देंगे 200 करोड़

नई दिल्लीः पीएम नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर में जारी हिंसा को रोकने और राज्य के युवाओं को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए शुक्रवार को बड़ा तोहफा दिया। उन्होंने राज्य के युवाओं को खेलों की ओर आकर्षित करने के लिए राज्य को 200 करोड़ रुपए के पैकेज का ऐलान किया है। इस रकम से राज्य की स्पोर्ट्स फैसीलिटीज को दुरुस्त किया जाएगा।

पैकेज का कहां होगा इस्तेमाल?

पैकेज से मिली रकम से जम्मू-कश्मीर के जिलों में इनडोर खेल सुविधाएं तैयार की जाएंगी। इससे सर्दी के मौसम के दौरान भी खेल जारी रह सकेंगे। श्रीनगर और जम्मू स्थित दो स्टेडियमों को भी इससे अंतरराष्ट्रीय स्तर का अपग्रेड किया जाएगा। वहीं, पुंछ, राजौरी और ऊधमपुर की स्पोर्ट्स फैसिलिटीज को भी बेहतर बनाने की कोशिश होगी। साथ ही वॉटर स्पोर्ट्स की सुविधाएं भी 6 करोड़ रुपए की लागत से बेहतर की जाएंगी।

स्पोर्ट्स फॉर ऑल प्रोग्राम

जम्मू-कश्मीर में इस अभियान को तेजी देने के लिए ‘स्पोर्ट्स फॉर ऑल’ नाम से एक प्रोग्राम शुरू किया गया है। इसका संचालन जम्मू-कश्मीर राज्य खेल परिषद कर रहा है। प्रोग्राम के तहत गांवों में खेल प्रतियोगिताएं कराते हुए चर्चित खेलों को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसे रफ्तार देने के लिए राज्य के खेल परिषद को पहले ही पांच करोड़ रुपए जारी कर दिए गए हैं।

हिंसा में शामिल रहते हैं युवा

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में हाल में जारी हिंसा में युवाओं की भागीदारी रही है। जगह-जगह पथराव करने में भी युवा आगे रहते हैं। खुफिया एजेंसियों के मुताबिक राज्य के अलगाववादी नेता युवाओं को चंद रुपए देकर भड़काते हैं और इस तरह के काम करा रहे हैं। ऐसे में मोदी सरकार की योजना युवाओं के लिए रोजगार और अन्य मदद के जरिए उन्हें हिंसा से दूर रखना है। माना जा रहा है आने वाले दिनों में सरकार इसी तरह युवाओं के लिए और भी कई योजनाओं का ऐलान कर सकती है।

आगे की स्लाइड में देखिए पीएम मोदी का लेटेस्ट इंटरव्यू

tiwarishalini

tiwarishalini

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story