जामिया पर बड़ा खुलासा, हिंसा में शामिल ये नाम, सामने आई ये सच्चाई

नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के खिलाफ पिछले साल 15 दिसंबर को प्रदर्शन के दौरान जामिया क्षेत्र में हुई हिंसा पर विवाद अबतक थमा नहीं है।

ऩई दिल्ली।  नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के खिलाफ पिछले साल 15 दिसंबर को प्रदर्शन के दौरान जामिया क्षेत्र में हुई हिंसा पर विवाद अबतक थमा नहीं है। हाल ही में सामने आए कई वीडियो पर मची हलचल के बीच दिल्ली पुलिस ने हिंसा को लेकर चार्जशीट दायर कर दी है।

य भी पढ़ें- यूपी सरकार का चौथा बजट पेश- 5 लाख 12 हजार 860 करोड़ 72 लाख का बजट

इस चार्जशीट में करीब सौ लोगों का बयान शामिल किया गया है, साथ ही ये भी खुलासा हुआ है कि हिंसा वाली जगह खाली कारतूस भी मिले थे। इस चार्जशीट में शरजील इमाम का भी नाम शामिल है।

जामिया नगर क्षेत्र और एनएफसी मार्केट के पास हुई हिंसा हुई थी

दिल्ली के जामिया नगर क्षेत्र और एनएफसी मार्केट के पास हुई हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस ने बीते 13 फरवरी को गोपनीय तरीके से साकेत कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की। इस चार्जशीट में क्या बड़े खुलासे हुए हैं।

-पुलिस की जांच में पता लगा है कि हिंसा वाले इलाके से 3.2 MM के खाली कारतूस मिले हैं।

-सीसीटीवी, सीडीआर और सबूत के तौर पर करीब 100 गवाहों के बयान पुलिस ने चार्जशीट में दाखिल किए हैं। एक आरोप पत्र में शरजील इमाम का नाम भी शामिल किया गया है।

-हिंसा का आरोपी कौन है इसका पता लगाने के लिए दिल्ली पुलिस ने पहचान और तस्वीरें भी साझा की हैं।

– इस हिंसा को लेकर अभी तक कुल 17 गिरफ्तारियां हुई हैं। इनमें 9 NFC और 8 जामिया इलाके से हुई हैं। हालांकि, चार्जशीट में किसी छात्र का नाम नहीं है।

– दिल्ली पुलिस ने धारा 307, 147, 148,149, 186, 353, 332, 427 और अन्य धारा के तहत चार्जशीट दाखिल की है।

-चार्जशीट के मुताबिक, 15 दिसंबर को हुई हिंसा में 95 लोग घायल हुए थे। इनमें 47 पुलिसकर्मी हैं।

-उपद्रवियों ने हिंसा के दौरान 6 बसें, 3 निजी वाहनों को क्षतिग्रस्त किया।

-अपनी चार्जशीट में दिल्ली पुलिस ने PFI का भी उल्लेख किया और रोल की जांच की बात कही है।

ये भी पढ़ें-उत्तर प्रदेश: योगी सरकार आज विधानसभा में पेश करेगी बजट

 

आपको बता दें कि बीते दिनों जामिया हिंसा से जुड़े कई वीडियो सामने आए हैं। अभी तक सामने आए कुल छ: वीडियो में अलग-अलग पक्ष दिख रहा है। कुछ वीडियो में दिल्ली पुलिस छात्रों पर डंडे बरसा रही है और सीसीटीवी को ही नुकसान पहुंचा रही है। तो कुछ वीडियो में उपद्रवी जामिया कैंपस से पत्थरबाजी करते दिख रहे हैं और लाइब्रेरी में छिपते हुए दिख रहे हैं।

न्यायिक हिरासत में भेजा गया शरजील इमाम

शरजील इमाम का नाम बीते दिनों भड़काऊ भाषण देने के मामले में आया था, उनपर राजद्रोह का केस दर्ज किया गया था। सोमवार को ही दिल्ली पुलिस ने जामिया हिंसा मामले में शरजील को गिरफ्तार किया है, क्राइम ब्रांच ने शरजील पर ये एक्शन लिया है।

साकेत कोर्ट ने शरजील इमाम को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। शरजील पर नया आरोप लगा है कि उन्होंने कुछ इलाकों में पैंफलेट बंटवाए थे, जिसमें CAA के खिलाफ प्रदर्शन करने के लिए कहा गया था।