अंबेडकर का दावा- मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की जान को खतरा

Published by Rishi Published: January 10, 2018 | 6:30 pm
Modified: January 11, 2018 | 10:01 am

मुंबई : भारिपा बहुजन महासंघ के अध्यक्ष प्रकाश अंबेडकर ने बुधवार को कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के जीवन को कुछ हिदुत्व समर्थक तत्वों से गंभीर खतरा है। अपनी बात के पक्ष में अंबेडकर ने रावसाहेब पाटील नाम के एक व्यक्ति की एक फेसबुक पोस्ट का जिक्र किया।

अंबेडकर का दावा है कि पाटील श्री शिव प्रतिष्ठान हिंदुस्तान के अध्यक्ष संभाजी वी. भिडे का ‘करीबी सहयोगी’ है। श्री शिव प्रतिष्ठान हिंदुस्तान, पश्चिमी महाराष्ट्र का धुर दक्षिणपंथी हिंदुत्व समर्थक संगठन है।

ये भी देखें :माया के लिए बिना मांगी मुराद बना कोरेगांव : सियासत की धार तेज कर रही बसपा

पाटील ने एक जनवरी को रात 10.12 बजे की अपनी पोस्ट में फडणवीस, उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगी गिरीश बापत व पूर्व पत्रकार सुधींद्र कुलकर्णी को ‘ऐसा कीड़ा बताया, जिन्हें कुचला जा सकता है।’

पाटील की पोस्ट में कहा गया, “यदि आप कोरेगांव-भीमा में संख्या कम पाते हैं तो आप गिरीश बापत, देवेंद्र फडणवीस, सुधींद्र कुलकर्णी को काट सकते हैं, मुझे कोई आपत्ति नहीं होगी। ये देश व राज्य को तकलीफ देने वाले कीड़े हैं।”

अंबेडकर ने यहां मीडिया के लोगों से कहा कि यह पोस्ट पुणे जिले के कोरेगांव-भीमा गांव में जातीय दंगे के भड़कने के दिन आई। इसमें नांदेड़ के एक 28 साल के युवक की मौत हो गई।

पाटील बालाजी मोशन पिक्चर्स में सहायक के रूप में कार्य करता है। उसने खुद को एक ‘कट्टर शिव सैनिक’ व दिवंगत शिव सेना संस्थापक बाल ठाकरे की विचारधारा का अनुयायी बताया है।

अंबेडकर ने 3 जनवरी को महाराष्ट्र बंद का सफल आयोजन किया था। अंबेडकर लगातार भिडे व पुणे के एक दूसरे हिंदुत्व समर्थक नेता मिलिंद एकबोटे को कोरेगांव-भीमा दंगे के लिए निशाना बना रहे हैं और इनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।