धार्मिक सौहार्द्र: सिखों ने मुस्लिमों को गुरुद्वारे में बुलाकर अदा करवाई ईद की नमाज

Published by aman Published: September 3, 2017 | 8:59 am
Modified: September 3, 2017 | 9:00 am
धार्मिक सौहार्द्र: सिखों ने मुस्लिमों को गुरुद्वारे में बुलाकर अदा करवाई ईद की नमाज

देहरादून: देवभूमि के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बीते एक सप्ताह से जोरदार बारिश हो रही है। शनिवार को भी मूसलाधार बारिश हुई। इससे चमोली के जोशीमठ का बड़ा हिस्सा जलमग्न हो गया। इस दौरान बकरीद के मौके पर नमाज अदा करने के लिए मुस्लिम समुदाय के लोग जुटने लगे। लेकिन वो मैदान में जमा पानी को देखकर चिंतित हो गए। उन्हें ये समझ नहीं आ रहा था कि वो कहां नमाज अदा करें।

मुसलमान विकल्पों पर विचार कर ही रहे थे कि इलाके के सिख समुदाय ने उनकी दुविधा समझी। सिख समुदाय के लोगों ने मुस्लिम समाज के लोगों को बुलाया और फैसला हुआ कि मुसलमानों को गुरुद्वारे में नमाज अदा करने का प्रस्ताव दिया जाए।

1,000 मुसलमानों ने गुरुद्वारे में पढ़ी नमाज
सिखों ने मुस्लिम भाइयों को गुरुद्वारे में नमाज अदा करने का प्रस्ताव दिया। इसके बाद जोशीमठ, गोविंद घाट एवं पीपलकोटी से करीब 1,000 मुसलमानों ने गुरुद्वारे के अहाते में नमाज अदा की। जोशीमठ के एसडीएम योगेंद्र सिंह, इंस्पेक्टर संजय कुमार और गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के सदस्य तुरंत मौके पर पहुंचे और नमाज अदा करने की जगह तैयार कर दी।

‘हम यही कर सकते थे’
इस वाकये पर जोशीमठ गुरुद्वारा समिति के मैनेजर बूटा सिंह ने कहा, कि ‘इलाके में एक भी मस्जिद नहीं है। ईद की नमाज गांधी मैदान की खुली जगह में अदा की जाती है। जब पता चला कि मैदान पूरी तरह पानी में डूब गया है और बड़ी संख्या में जुटे मुसलमान नमाज अदा नहीं कर पाएंगे, तो गुरुद्वारा कमिटी तुरंत मदद करने आ गई। हम यही कर सकते थे।’