×

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, शहीद जवान को दिया कंधा

गृह मंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। उनके साथ नॉर्थन कमांड चीफ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह भी मौजूद थे।  जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद गृहमंत्री ने सीआरपीएफ के शहीद जवान को कंधा दिया।

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 15 Feb 2019 8:00 AM GMT

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, शहीद जवान को दिया कंधा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : गृह सचिव राजीव गाबा, सीआरपीएफ के डीजी आरआर भटनागर, आईबी के अतिरिक्त निदेशक अरविंद कुमार और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ गृह मंत्री राजनाथ सिंह श्रीनगर पहुंचे हैं।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू कश्मीर के गवर्नर सत्यपाल ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। उनके साथ नॉर्थन कमांड चीफ लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह भी मौजूद थे। जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद गृहमंत्री ने सीआरपीएफ के शहीद जवान को कंधा दिया। बता दें, जनाक्रोश को देखते हुए दिल्ली में पाकिस्तान उच्चायोग पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

ये भी देखें :पीएम की चेतावनीः पाकिस्तान को बहुत बड़ी कीमत चुकानी होगी

हम भूलेंगे नहीं, हम बख्शेंगे नहीं: सीआरपीएफ

सीआरपीएफ ने कहा, "हम भूलेंगे नहीं, हम बख्शेंगे नहीं। हम पुलवामा हमले में अपने शहीदों को सलाम करते हैं, और शहीदों भाइयों के परिवारों के साथ खड़े हैं। इस जघन्य हमले का बदला लिया जाएगा।

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ जवानों का पार्थिव शरीर बडगाम कैंप में रखा गया है। यहां पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी जाएगी।

ये भी देखें :पुलवामा अटैक में कानपुर के प्रदीप यादव शहीद ,परिवार समेत पूरा शहर शोक में डूबा

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर शहीद के परिवार को 20 लाख रुपए देने की घोषणा की है।

भारत में जर्मनी के राजदूत डॉ जैस्पर वीक ने कहा है, "जर्मनी सभी प्रकार के आतंकवाद की निंदा करता है। हम बेहद दुखी और स्तब्ध हैं। हमारी संवेदनाएं पीड़ितों के परिवारों के साथ हैं।"

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story