×

पुलवामा हमले पर बोला पाकिस्तान, सबूत दे भारत तो करेंगे जांच में सहयोग

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए। इस आतंकी हमले की आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद का नाम सामने आाया है। इसके बाद से पाकिस्तान हर तरफ से घिर गया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 17 Feb 2019 6:32 AM GMT

पुलवामा हमले पर बोला पाकिस्तान, सबूत दे भारत तो करेंगे जांच में सहयोग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए। इस आतंकी हमले की आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद का नाम सामने आाया है। इसके बाद से पाकिस्तान हर तरफ से घिर गया है।

पुलवामा में हमले के बाद पाकिस्तान पर दुनिया भर ने दबाव बनाना शुरू कर दिया है। इसके बाद पाकिस्तान ने कहा है कि सबूत मिलने पर वह जांच में सहयोग करने को तैयार है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को कहा कि कोई भी पुलवामा आतंकवादी हमले के लिए उनके देश को धमका नहीं सकता है। इसके साथ ही उन्होंने पेशकश की कि अगर भारत इस घटना के संबंध में पाकिस्तान के साथ कोई सबूत साझा करता है तो पाकिस्तान जांच में पूरा सहयोग करेगा।

यह भी पढ़ें.....मोदी सरकार का बड़ा फैसला, मीरवाइज समेत 5 अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा हटाई

पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली। म्युनिख सुरक्षा सम्मेलन में हिस्सा लेने जर्मनी दौरे पहुंचे कुरैशी ने एक वीडियो संदेश में दावा किया कि बिना जांच के भारत ने बगैर सोचे-विचारे तत्काल इस हमले का ठीकरा पाकिस्तान पर फोड़ दिया।

यह भी पढ़ें.....पंजाब में बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, सरकार ने किया 11 IAS व 66 PCS का तबादला

कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराना आसान है लेकिन इससे समस्या का हल नहीं होगा और विश्व भी मानने को तैयार नहीं होगा कुरैशी का यह संदेश पाकिस्तान के सत्तारूढ़ दल पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने अपने ट्विटर एकाउंट पर जारी किया।

यह भी पढ़ें.....यूपी: आधी रात के बाद सौ से ज्यादा पीसीएस अफसरों के तबादले

पाक विदेश मंत्री ने कहा कि कोई भी इस हमले के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराकर उसे धमका नहीं सकता। उन्होंने कहा, हमे मालूम है कि अपनी रक्षा कैसे की जाए। हम भी अपना दृष्टिकोण दुनिया के सामने रख सकते हैं। हमारा संदेश शांति का है न कि संघर्ष का।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story