जेट एयरवेज की उड़ानों के रद्द होने पर पुणे की कंपनी सैन्यकर्मियों के पैसे लौटाएगी

कंपनी ‘‘उड़चलो डॉट काम’’ एक पोर्टल है जिसकी स्थापना सैन्यकर्मियों के बच्चों ने की है। यह कंपनी सशस्त्र बलों, अर्धसैनिक बलों और उनके परिवारों की निजी यात्रा जरूरतों को पूरा करती है।

पुणे: सशस्त्र बलों, अर्धसैनिक बलों और उनके परिवारों की निजी यात्रा जरूरतों को पूरा करने वाली पुणे की एक कंपनी ने मंगलवार को कहा कि वह जेट एयरवेज की उड़ानों के रद्द होने के बाद अपने ग्राहकों को उनके पैसे लौटाएगी। कंपनी ने जेट एयरवेज के फैसले की प्रतीक्षा किए बिना यह कदम उठाया है।

ये भी देखें:ईरान की संसद ने अमेरिका की पूरी सेना को आतंकवादी करार दिया

कंपनी ने कुल राशि का खुलासा नहीं किया है लेकिन सूत्रों का कहना है कि यह राशि करीब छह करोड़ रूपए होगी।

कंपनी ‘‘उड़चलो डॉट काम’’ एक पोर्टल है जिसकी स्थापना सैन्यकर्मियों के बच्चों ने की है। यह कंपनी सशस्त्र बलों, अर्धसैनिक बलों और उनके परिवारों की निजी यात्रा जरूरतों को पूरा करती है।

इसके कर्मचारियों में पूर्व सैन्यकर्मी, मौजूदा और पूर्व सैन्यकर्मियों के बच्चे आदि हैं।

कंपनी के उपाध्यक्ष कर्नल (अवकाशप्राप्त)डी बी तिनग्रे ने पीटीआई से कहा कि वैश्विक निकाय ‘‘इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन’’ (आईएटीए) ने अपने क्लीयरिंग हाउस के जरिए जेट एयरवेज के सभी लेनदेन और टिकटिंग गतिविधियों को स्थगित कर दिया था। इसको लेकर लाखों ग्राहकों के रिफंड को लेकर अनिश्चितता बनी हुयी है।

उन्होंने कहा कि पुणे स्थित उनका पोर्टल अपने ग्राहकों के लिए प्रतिबद्ध है।

ये भी देखें:पश्चिम बंगाल: TMC और कांग्रेस में झड़प, मतदान के लिए लाइन में लगे वोटर की मौत

कंपनी के सीईओ और एक सेवानिवृत्त कर्नल के पुत्र वरूण जैन ने कहा कि जब आप सशस्त्र बलों की तरह सम्मानित ग्राहकों की सेवा करते हैं तो अपने सैनिकों के हितों की तुलना में बाकी सब कुछ गौण हो जाता है।

(भाषा)