×

Haryana, Punjab CM Meeting: सतलुज यमुना लिंक नहर मुद्दे पर पंजाब, हरियाणा के मुख्यमंत्रियों की बैठक

Haryana, Punjab CM Meeting: पंजाब के सीएम भगवंत मान और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर के बीच में हुई बैठक बेनतीजा रही। बैठक से कोई समाधान नहीं निकल सका।

Jugul Kishor
Published on: 14 Oct 2022 9:55 AM GMT
Haryana, Punjab CM Meeting
X

सतलुज यमुना लिंक नहर मुद्दे पर पंजाब, हरियाणा के मुख्यमंत्रियों की बैठक (Pic: Social Meedia)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Haryana, Punjab CM Meeting: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सतलुज यमुना लिंक नहर के मुद्दे पर आज हरियाणा से सीएम मनोहर लाल खट्टर और पंजाब के सीएम भगवंत मान के बीच बैठक हुई है। यह बैठक चंड़ीगढ़ स्थित हरियाणा निवास पर हुई है। पंजाब के सीएम भगवंत मान और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर के बीच बैठक के बाद सतलुज यमुना लिंक नहर मुद्दे पर गतिरोध जारी है। सतलुज यमुना लिंग नहर विवाद पर हुई बैठक बेनतीजा रही, बैठक में कोई निष्कर्ष नहीं निकल सका।

सीएम मनोहर लाल ने पंजाब अपना रहा अड़ियल रास्ता

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल ने बैठक के बाद कहा कि सतलुज यमुना नहर लिंक बनाने के मुद्दे पर पंजाब के मुख्‍यमंत्री भगवंत मान के साथ बैठक हुई। इसमें पंजाब अपने पुराने रुख पर कायम रहा और इस कारण बैठक में कोई सहमति नहीं बनी। मनोहर लाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट हरियाणा के पक्ष में फैसला दे चुका है, लेकिन पंजाब अड़ियल रुख नहीं बदल रहा है।

भगवंत मान ने कहा पंजाब के पास अतिरिक्त पानी नहीं

पंजाब सीएम भगवंत मान ने कहा कि आज हरियाणा के साथ चंड़ीगढ़ में बैठक हुई। हरियाणा का कहना है कि गंगा सतलुज लिंक नहर का निर्माण शुरू किया जाए। हमने कह दिया कि पंजाब के पास पानी नहीं है। भगवंत मान ने कहा कि हमने हरियाणा के सीएम से कहा है कि पीएम के पास चलते हैं। उनसे कहते हैं कि हरियाणा को पानी कहीं और से दे दो।

सुप्रीम कोर्ट ने दिया था आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने सतलुज यमुना लिंक नहर मुद्दे पर पिछले महीने आदेश दिया था कि पंजाब और हरियाणा के मुख्यमंत्री आपस में बात करें। आपस में बात करके समाधान निकालें। समाधान होने के बाद में दोनों राज्यों 15 अक्टूबर को कोर्ट में जवाब भी देने के लिए कहा गया था। इसीलिए आज दोनों राज्यों के बीच में बातचीत हुई। लेकिन बातचीत बनेतीजा रही। अब दोनों राज्यों द्वारा दिए जाने वाले जवाब से ही तय हो पायेगा कि मामला किस दिशा में आगे बढ़ेगा।

Jugul Kishor

Jugul Kishor

Next Story