×

राफेल मानहानि केस: अनिल अंबानी के हर्जाने के दावे पर उठे सवाल, जानिए क्या है ये मामला

अनिल अम्बानी ने राफेल केस में कुछ नेताओं की तरफ से आरोप लगाने और मीडिया रिपोर्टिंग से नाराज होकर कुल 16 नोटिस मीडिया हाउस, जर्नलिस्ट और विपक्षी नेताओं को भेजे हैं। साथ ही उनके खिलाफ मानहानि का केस दायर करते हुए 85,000 करोड़ रुपये हर्जाने के तौर पर मांगे है।

Aditya Mishra
Updated on: 1 Dec 2018 9:15 AM GMT
राफेल मानहानि केस: अनिल अंबानी के हर्जाने के दावे पर उठे सवाल, जानिए क्या है ये मामला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: उधोगपति अनिल अम्बानी राफेल विवाद के बाद से लगातार चर्चा में बने हुए है। अनिल अम्बानी ने राफेल केस में कुछ नेताओं की तरफ से आरोप लगाने और मीडिया रिपोर्टिंग से नाराज होकर कुल 16 नोटिस मीडिया हाउस, जर्नलिस्ट और विपक्षी नेताओं को भेजे हैं। साथ ही उनके खिलाफ मानहानि का केस दायर करते हुए 85,000 करोड़ रुपये हर्जाने के तौर पर मांगे है।

वहीं क्विंट की रिपोर्ट ने अम्बानी के हर्जाने के दावे पर सवाल खड़ा कर दिया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि हर्जाने के तौर पर मांगी गई ये रकम उनकी एडीएजी ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों की मार्केट वैल्यू से दो गुना ज्यादा हैं।

क्विंट ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अगर एडीएजी ग्रुप की लिस्टेड कंपनियों के शेयरों का हिसाब लगाएं तो हर्जाने में मांगी गई रकम शेयर वैल्यू का साढ़े तीन गुना हो जाती है।

यहां से जानें अनिल अंबानी की संपत्ति के बारें सब कुछ में

अनिल अंबानी के ADAG ग्रुप की 7 लिस्टेड कंपनियां हैं। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) में 28 नवंबर को उनके शेयर भाव के हिसाब से सबका मार्केट कैप करीब 40,000 करोड़ रुपए है।

लेकिन इनमें अगर प्रमोटर होल्डिंग का हिसाब लगाया जाए तो प्रमोटर के एसेट सिर्फ 25,000 करोड़ रुपए ही निकलते हैं. प्रमोटर में अनिल अंबानी और उनका परिवार शामिल है।

ये भी पढ़ें...राहुल ने PM पर लगाया आरोप, कहा- जो भी राफेल के इर्द गिर्द आएग हटा दिया जाएगा

ये है ADAG ग्रुप की सातों लिस्टेड कंपनियों की सम्पत्ति का अलग –अलग ब्यौरा

लायंस कम्युनिकेशन - 3,683.69

रिलायंस पावर- 8,443.43

रिलायंस नेवल एंड इंजीनियरिंग- 964.77

रिलायंस होम- 2,081.21

रिलायंस निप्पॉन- 9,871.56

रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर- 9,250.67

रिलायंस कैपिटल- 6006

अब तक इन मीडिया हाउसेज को भेजी गई नोटिस

द वायर -6000 करोड़ रुपए

एनडीटीवी- 10,000 करोड़ रुपए

नेशनल हेराल्ड- 5000 करोड़ रुपए

संजय सिंह- 5,000 करोड़ रुपए

स्क्रॉल - 15,500 करोड़ रुपए

सिटिजन की फाउंडर एडिटर सीमा मुस्तफा- 7000 करोड़ रुपए

संजय निरुपम और प्रियंका चतुर्वेदी के मुताबिक उन्हें और कई कांग्रेस नेताओं को भी 5000 करोड़ रुपए के नोटिस मिले। इस मामले में अमेरिकी न्यूज एजेंसी ब्लूमबर्ग और लंदन के अखबार फाइनेंशियल टाइम्स के पास भी नोटिस पहुंच चुका है।

ये भी पढ़ें...राफेल डील : केंद्र सरकार ने याचिकाकर्ताओं को दस्तावेज सौंपे

50 परसेंट से ज्यादा गिर चुके ADAG के शेयर

बिजनेस के लिहाज से अनिल अंबानी की रिलायंस ADAG ग्रुप कंपनियों की सेहत कोई बहुत अच्छी नहीं है। ग्रुप की 7 लिस्टेड कंपनियां हैं लेकिन इस साल जनवरी से अब तक इनमें से ज्यादातर के शेयर 50 परसेंट से ज्यादा गिर चुके हैं। जिससे इनकी मार्केट वैल्यू कम होकर सिर्फ 36500 करोड़ रुपए रह गई है। ADAG ग्रुप कंपनियों के शेयरों का खराब प्रदर्शन कर्ज और दूसरी दिक्कतों से ग्रुप की करीब-करीब सभी कंपनियों में इस साल निवेशकों की आधी रकम साफ हो गई है। एक जनवरी 2018 के भाव के हिसाब से 28 नवंबर को 2018 के बीच ग्रुप की सभी कंपनियों के शेयरों में लगातार गिरावट ही रही है।

यहां से जानें किस कम्पनी के कितने गिरे शेयर

1. रिलायंस कैपिटल- 598 रुपए से गिरकर भाव 237 रुपए रह गया

2. रिलायंस इंफ्रा- 572 रुपए से गिरकर 360 रुपए

3. रिलायंस कम्युनिकेशन- 35.4 रुपए से गिरकर अभी- 13 रुपए

4. रिलायंस पावर- 60 रुपए से गिरकर 29.85 रुपए

5. रिलायंस नेवल एंड इंजीनियरिंग 65- से गिरकार अभी 12.78 रुपए

6. रिलायंस होम- 98 रुपए से अभी- 42.5 रुपए

7. रिलायंस निप्पॉन- 299.75 रुपए से गिरकर अभी 172.30 रुपए

अनिल अंबानी की कंपनियों पर कर्ज का दबाव

शेयर में कमजोरी के साथ रिलायंस ADAG ग्रुप की कंपनियां कर्ज के संकट से भी परेशान हैं। कर्ज कम करने के लिए अनिल अंबानी हिस्सेदारी भी बेच रहे हैं। वित्तीय साल 2018 में अनिल अंबानी के ADAG ग्रुप की कंपनियों पर कुल एक लाख करोड़ (1,03,158 करोड़) का कर्ज है।

ये भी पढ़ें...राफेल विवादः भाजपा ने अब राबर्ट वाड्रा को लपेटा, चहेती कंपनी को डील दिलाने के प्रयास का आरोप

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story