×

कौन हैं जेपी नड्डा! राहुल गांधी का तगड़ा वार, बोले वे मुझे छू नहीं सकते

राहुल गांधी ने कहा कि एपीएमसी और कृषि प्रणाली की वजह से आपके द्वारा खरीदे जाने वाले चावल, गेहूं (मध्यम वर्ग) आपको मिलता है। यह किसानों पर नहीं बल्कि मध्य वर्ग और देश के हर एक नौजवान पर हमला है, जो नौकरी पाने में सक्षम नहीं है।

Chitra Singh

By Chitra Singh

Published on 19 Jan 2021 9:21 AM GMT

कौन हैं जेपी नड्डा! राहुल गांधी का तगड़ा वार, बोले वे मुझे छू नहीं सकते
X
कौन हैं जेपी नड्डा! राहुल गांधी का तगड़ा वार, बोले वे मुझे छू नहीं सकते
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में केंद्र सरकार के तीन कृषि कानून पर एक पुस्तिका जारी की। इस दौरान राहुल गांधी ने किसानों और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा पर जमकर हमला बोला। राहुल गांधी ने कहा कि आज देश में त्रासदी सामने आ रही है, सरकार देश की समस्या और गलत सूचना को नजरअंदाज करना चाहती है। मैं अकेले किसानों के बारे में बोलने वाला नहीं हूं, क्योंकि यह त्रासदी का हिस्सा है। यह युवाओं के लिए महत्वपूर्ण है। यह वर्तमान के बारे में नहीं बल्कि आपके भविष्य के बारे में है।

राहुल गांधी ने जेपी नड्डा पर साधा निशाना

दिल्ली में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, "किसानों को वास्तविकता पता है। सभी किसान जानते हैं कि राहुल गांधी क्या करते हैं। नड्डा जी भट्टा पारसौल में नहीं थे। मेरा एक साफ चरित्र है। डर नहीं है, वे मुझे छू नहीं सकते। हां, वे मुझे गोली मार सकते हैं।” उन्होंने कहा कि एपीएमसी और कृषि प्रणाली की वजह से आपके द्वारा खरीदे जाने वाले चावल, गेहूं (मध्यम वर्ग) आपको मिलता है। यह किसानों पर नहीं बल्कि मध्य वर्ग और देश के हर एक नौजवान पर हमला है, जो नौकरी पाने में सक्षम नहीं है।

rahul gandhi

चीन के पास है स्पष्ट रणनीतिक दृष्टि- राहुल

इतना ही नहीं, राहुल गांधी ने चीन की तारीफ करते हुए कहा, “चीन के पास दुनिया को आकार देने की स्पष्ट रणनीतिक दृष्टि है जो भारत के पास नहीं है। भारत ऐसा करता है और वह रणनीतिक रूप से काम नहीं करता है। चीन दो बार परीक्षण कर चुका है। एक बार डोकलाम में और दूसरा लद्दाख में।” राहुल ने आगे कहा, “यदि भारत उन्हें स्पष्ट संदेश नहीं देता है और स्पष्ट सैन्य, आर्थिक भू राजनीतिक रणनीति बनाता है, तो चीन चुप नहीं रहेगा, लेकिन इसका अधिकतम लाभ उठाएगा। जिस दिन ऐसा होगा, हमें नुकसान होगा।” राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित समिति पर कहा, “मैं सुप्रीम कोर्ट पर टिप्पणी नहीं करूंगा और भारत सुप्रीम कोर्ट की वास्तविकता देख सकता हूं।”

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story