×

राहुल ने कहा,एक तरफ मोदी दूसरी तरफ मैं : फैसला जनता करे 

कभी मां सोनिया गांधी का संसदीय निर्वाचन क्षेत्र रहे बेल्लारी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक में चुनाव प्रचार की शुरूआत की और कहा एक तरफ मोदी और एक तरफ मैं हूं फैसला आपको करना है कि सच कौन बोलता है। 

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 10 Feb 2018 10:30 AM GMT

राहुल ने कहा,एक तरफ मोदी दूसरी तरफ मैं : फैसला जनता करे 
X
राहुल ने कहा,एक तरफ मोदी दूसरी तरफ मैं : फैसला जनता करे
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बेल्लारी: कभी मां सोनिया गांधी का संसदीय निर्वाचन क्षेत्र रहे बेल्लारी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कर्नाटक में चुनाव प्रचार की शुरूआत की और कहा एक तरफ मोदी और एक तरफ मैं हूं फैसला आपको करना है कि सच कौन बोलता है।

राहुल ने यहां से 'जन आशीर्वाद यात्रा' की शुरुआत की। उनके साथ लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और सीएम के. सिद्धारमैया भी थे । उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात भी की। बडी संख्या में पहुंचे पार्टी कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में राहुल ने दीया जलाकर चुनाव प्रचार यात्रा का शुभारंभ किया।

राहुल ने जनसभा में कहा कि कर्नाटक की जनता को तय करना है कि उन्हें किस पर यकीन है। राहुल ने मौजूद लोगों को दो विकल्प भी दिए और कहा कि 'एक तरफ कांग्रेस, सिद्धारमैया और मैं हूं, जबकि दूसरी तरफ बीजेपी और नरेंद्र मोदी हैं। '

राहुल ने लोगों से अपील की कि जो सच बोलता है आप उस पर यकीन करें, क्योंकि झूठ बोलने वालों से कर्नाटक की जनता को कोई फायदा नहीं पहुंचेगा। राहुल ने दावा किया कि मोदी जी जो वादा करते हैं, उसे निभाते नहीं हैं। मोदी जी ने 15 लाख रूपये खाते में भिजवाने का वादा किया था, लेकिन एक रूपया भी नहीं आया। मोदी ने हर साल 2 करोड़ रोजगार का वादा किया, जब हमने संसद में सवाल किया कि केंद्र सरकार ने कितने रोजगार दिए तो उन्होंने 24 घंटे में 450 का आकंड़ा दिया। संसद में मोदी जी ने भविष्य की बात नहीं करते बल्कि सिर्फ कांग्रेस और इतिहास की बात करते हैं।

राहुल से पहले अपने संबोधन में मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जब सोनिया गांधी ने बेल्लारी सीट से लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की तो कांग्रेस की किस्मत बदल गई। ठीक वैसे ही बेल्लारी से शुरू हो रही जन आशीर्वाद यात्रा से न सिर्फ कर्नाटक चुनाव में जीत सुनिश्चित होगी, बल्कि 2019 के आम चुनाव में भी कांग्रेस की फतह होगी।

राहुल यहां मंदिरों के दर्शन भी करेंगे।जिससे लग रहा है कि राहुल अपनी सॉफ्ट हिंदू की छवि को बरकरार रखना चाहते हैं। इसलिए वो धार्मिक स्थानों का दौरा भी करेंगे।

राहुल गांधी अपनी 4 दिन की यात्रा में 10 से 13 फरवरी तक हैदराबाद-कर्नाटक इलाके का दौरा करेंगे। वो बेल्लारी, कोप्पल, गुलबर्गा और रायचुर जाएंगे। इसके बाद राहुल हुलीगम्मा मंदिर दर्शन करने जाएंगे और वहां से गवी सिद्धेश्वर मठ भी जाने का कार्यक्रम है।गवी सिद्धेश्वर मठ को लिंगायत मठ भी कहा जाता है।संभवत: ये लिंगायत समुदाय को साधने की भी कोशिश है ।

दरअसल, जिस क्षेत्र में राहुल यात्रा कर रहे हैं वहां लिंगायत समुदाय की आबादी सबसे ज्यादा है।ऐसे में राहुल का गवी सिद्धेश्वर मठ जाना इसी समुदाय को कांग्रेस के पाले में लाने की कोश‍िश है।लिंगायत समुदाय को बीजेपी के कोर वोट के तौर पर भी देखा जाता है क्योंकि येदुरप्पा इसी समुदाय के हैं।

दरअसल, साल 1999 में सोनिया गांधी ने अपना पहला चुनाव बेल्लारी लोकसभा सीट से ही लड़ा था। उन्होंने इस सीट से बीजेपी की सुषमा स्वराज को हराया था। उस चुनाव में राहुल गांधी भी कई दिनों तक प्रचार अभियान पर थे।

इसके बाद 2013 के विधानसभा चुनाव में सात साल बाद कांग्रेस को सत्ता में वापस लाने में इसी बेल्लारी का बड़ा योगदान था, क्योंकि 2010 में विपक्ष के नेता रहे सिद्धारमैया ने खनन माफिया रेड्डी भाईयों के विरोध में बेंगलुरू से बेल्लारी तक पदयात्रा निकाली थी।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story