×

राहत की खबर : बारिश व बर्फबारी से बदला उत्तराखंड का मिजाज

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 12 Feb 2018 11:23 AM GMT

राहत की खबर : बारिश व बर्फबारी से बदला उत्तराखंड का मिजाज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

देहरादून : उत्तराखंड में सोमवार को एक बार फिर मौसम का मिज़ाज बदल गया। राज्य के पर्वतीय जिलों में बर्फ की चादर बिछ गई। तो मैदानी इलाके झमाझम बारिश में भीग गए। बागेश्वर के ऊंचाई वाले इलाकों में सुबह से ही बर्फबारी शुरू हो गई तो निचले इलाकों को बारिश ने भिगो दिया। चंपावत में विभिन्न जगहों पर सुबह से ही हलकी से मध्यम बारिश होती रही। टिहरी में भी बारिश बर्फबारी देखने को मिली। उत्तरकाशी में उच्च हिमालयी क्षेत्रों में गंगोत्री, यमुनोत्री, हर्षिल, धराली, चौरंगी खाल, राड़ी टॉप में बर्फ़ की चादर बिछ गई। आम लोग अपने घरों में दुबक रहे थे तो बर्फ़बारी को देख पर्यटकों के चेहरे खिल गए। चमोली में बर्फबारी ने पहाड़ों पर बर्फ की सफेद चादर बिछा दी।

ये भी देखें : पहला मौका: 20 मार्च से गैरसैण में उत्तराखंड का बजट सत्र

देहरादून की सुबह बादलों की गर्जना और झमाझम बरसात के साथ हुई। हरिद्वार में बारिश से सड़कों पर मुश्किलें बढ़ी नज़र आईं। मसूरी-धनौल्टी में बर्फबारी ने पर्यटकों के चेहरों पर मुस्कान ला दिया। नैनीताल में हल्की बूंदाबांदी ने ठंड में इजाफा कर दिया। अल्मोड़ा भी बारिश की बूंदों में भींग गया। पिथौरागढ़ के मुन्स्यारी में कड़ाके की ठंड के बीच बारिश शुरू हुई। सूखी ठंड से गुजरने के बाद ये बारिश और बर्फ़बारी राज्य के लिए कुछ राहत की खबर है। सर्दी ज्यादा न पड़ने और बारिश न होने से जंगलों में आग लगने की घटनाएं भी शुरू हो गई थीं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story