×

राजस्थान इलेक्शन : बीजेपी MLA ने कहा, मुस्लिम होने की वजह से नहीं मिला टिकट

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 13 Nov 2018 2:59 PM GMT

राजस्थान इलेक्शन : बीजेपी MLA ने कहा, मुस्लिम होने की वजह से नहीं मिला टिकट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

जयपुर : राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए आई बीजेपी उम्मीदवारों की पहली लिस्ट में कई बड़े नाम कटने के बाद पार्टी में हडकंप मच गया है। सोमवार जहां मंत्री सुरेंद्र गोयल ने पार्टी से इस्तीफा दिया वहीं अब नागौर से विधायक हबीब-उर-रहमान ने भी अपना इस्तीफा पार्टी प्रदेश अध्यक्ष को सौंप दिया है।

आपको बता दें, रहमान और गोयल का नाम 131 उम्मीदवारों की लिस्ट में नहीं था। रहमान के स्थान पर अब मोहन राम चौधरी को नागौर से उम्मीदवार बनाया गया है।

ये भी देखें : राजस्थान इलेक्शन : बीजेपी उम्मीदवारों की पहली लिस्ट ने साबित किया सीएम ही बॉस

ये भी देखें : इलेक्शन 2018 : राजस्थान में टिकट कटा तो मंत्री ने दिया पार्टी से इस्तीफा

ये भी देखें : Live : PM मोदी ने परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया

यह भी पढ़ें: मोदी आज बनारस को देंगे 2412 करोड़ की योजनाओं की सौगात

यह भी पढ़ें: अयोध्या में ही बने राम मंदिर ताकि मुस्लिम शांति से जी सकें : हसन रिजवी

क्या बोले रहमान

हबीब-उर-रहमान ने पार्टी छोड़ने के बाद कहा कि बीजेपी में मुसलमानों को टिकट नहीं देने की पॉलिसी बन गयी है। मैंने टिकट हासिल करने के लिए कोई भी ग़लत तरीका नहीं अपनाया है। मैं आगे की रणनीति अपने कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद ही तय करूंगा।

सीएम के खास मुस्लिम नेताओं का टिकट कटा

हबीब-उर-रहमान के साथ ही यूनुस ख़ान सीएम वसुंधरा राजे के काफी करीबी हैं। लेकिन दोनों को टिकट नहीं मिला।

फिलहाल हबीब-उर-रहमान ने अपनी रणनीति का खुलासा नहीं किया है कि वो क्या करने वाले हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story