×

बंदरों की वजह से लड़कियों की नहीं उठ रही 'डोली', दबंगई पड़ रही भारी

आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं जहां लड़के शादी के नाम से ही भागने लगते हैं। अगर लड़कों को पता चल जाए कि उनकी शादी उस गांव में होने वाली है तो फिर क्या लड़के इतना सुनते ही गायब हो जाते हैं।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 28 Jan 2020 10:27 AM GMT

बंदरों की वजह से लड़कियों की नहीं उठ रही डोली, दबंगई पड़ रही भारी
X
बंदरों की वजह से लड़कियों की नहीं उठ रही 'डोली', दबंगई पड़ रही भारी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं जहां लड़के शादी के नाम से ही भागने लगते हैं। अगर लड़कों को पता चल जाए कि उनकी शादी उस गांव में होने वाली है तो फिर क्या लड़के इतना सुनते ही गायब हो जाते हैं। सुनने में अजीब लग रहा होगा लेकिन ये सच है। आप इसके पीछे की वजह भी जानना चाहते होंगे कि आखिर लड़के ऐसा क्यों करते हैं। क्या है उस गांव में तो चलिए आपको बताते हैं कि आखिर इसके पीछे की वजह क्या है।

यह भी पढ़ें: देशद्रोह का आरोपी शरजील इमाम गिरफ्तार, दिया था देश को तोड़ने वाला बयान

आखिर क्यों लड़के भागते हैं शादी के नाम से

हम बात कर रहे हैं बिहार के भोजपुर जिला के रतनपुर गांव की, जहां पर किसी भी कार्यक्रम का आयोजन अच्छे तरीके से सम्पन्न नहीं हो पाता। इसके पीछे की वजह कोई डाकू या चोर नहीं बल्कि बंदरों का आतंक है। जी हां, इस गांव में इंसानों से ज्यादा बंदरों की आबादी है और इन बंदरों का आतंक हर फंक्शन में छाया रहता है। चाहे श्राद्ध हो, जन्मदिन हो, शादी समारोह हो या फिर कोई दूसरा कार्यक्रम ये बंदर हर फंक्शन में अपनी मौजूगी दर्ज करवाकर ही रहते हैं।

यह भी पढ़ें: लड़की ने लड़के को तेज़ाब से नहलाया, जब सामने आई ये सच्चाई तो चौंक गये लोग

हर समारोह में करते हैं उत्पात, लोगों में है जबरदस्त खौफ

जब बंदर की आबादी ही इंसानों से ज्यादा हो तो खौफ खाना तो लाजमी ही है। यहां पर जब बंदर झुंड में पहुंचते हैं तो हर तरफ अफरा-तफरी मच जाती है। हर किसी पर बंदरों का खौफ दिखाई देने लगता है। ये बंदर न केवल समारोह में पहुंचकर खाना बर्बाद करते हैं बल्कि ये वहां पर उत्पात भी मचाते रहते हैं। बंदरों के उत्पात से बचने के लिए हर कोई आयोजन स्थल से भागना ही बेहतर विकल्प समझते हैं। अब जहां हर समारोह में बंदर उत्पात मचाने पहुंच जाएं और मेहमान भाग जाएं तो उस गांव में कोई शादी करना क्यों पसंद करेगा।

बंदरों पर काबू पाने के लिए किए तमाम प्रयास

रतनपुर गांव का खौफ इतना है कि अगर किसी लड़के को शादी का प्रस्ताव आता है तो दूल्हे वाले उस रिश्ते को ठुकरा देते हैं। हालांकि यहां के प्रशासन ने बंदरों पर काबू पाने के लिए कई प्रयास किए हैं। लेकिन प्रशासन के तमाम कोशिशों के बावजूद भी बंदरों की बढ़ती संख्या पर रोक नहीं लगाई जा सकी है।

यह भी पढ़ें: एक घंटे में खाली होगा शाहीन बाग: बीजेपी सांसद ने दे दी सबको चुनौती

Shreya

Shreya

Next Story