RBI ने रेपो रेट में की कटौती, घटेगी EMI और लोन होगा सस्ता

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने गुरुवार को अपनी छठी मौद्रिक समीक्षा नीति की घोषणा कर दी। आरबीआई ने रेपो रेट 6.5 से घटाकर 6.25 प्रतिशत कर दिया है जबकि रिवर्स रेपो रेट भी घटाकर 6.00 प्रतिशत कर दिया गया है।

नई दिल्ली: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने गुरुवार को अपनी छठी मौद्रिक समीक्षा नीति की घोषणा कर दी। आरबीआई ने रेपो रेट 6.5 से घटाकर 6.25 प्रतिशत कर दिया है जबकि रिवर्स रेपो रेट भी घटाकर 6.00 प्रतिशत कर दिया गया है। रेपो रेट में कटौती से अब होम लोन के ब्याज दरों में कटौती होगी जिससे आम आदमी को राहत मिलेगी।

यह भी पढ़ें…..यूपी बोर्ड इंटर-हाईस्कूल परीक्षा आज से, 25 अप्रैल तक रिजल्‍ट की उम्‍मीद

मॉनटरी पॉलिसी कमेटी(एमपीसी) के 6 में से 4 सदस्यों ने रेपो रेट में कटौती के फैसले का समर्थन किया, जबकि दो रेपो रेट में कटौती के पक्ष में नहीं थे।

अब तक आरबीआई का रेपो रेट 6.50 फीसदी था। आरबीआई ने 1 अगस्त 2018 को रेपो रेट को 0.25 फीसदी बढ़ाकर 6.50 फीसदी कर दिया था। गौरतलब है कि आरबीआई ने पिछली तीन मौद्रिक समिति बैठक में नीतिगत दरों को कोई बदलवा नहीं किया। मौजूदा वित्त वर्ष में इससे पहले दो बार 0.25-0.25 फीसदी की वृद्धि की गई थी।

यह भी पढ़ें…..बसपा- सपा गठबंधन को ’ढकोसला बताना बीजेपी की बौखलाहट: मायावती

रिजर्व बैंक ने वित्त वर्ष 2020 के लिए जीडीपी का लक्ष्य 7.4 फीसदी दिया है। रिजर्व बैंक के दरें घटाने के बाद रिवर्स रेपो रेट 6 फीसदी हो जाएगी। रिजर्व बैंक ने अपना मत न्यूट्रल कर लिया है।

यह भी पढ़ें…..दिल्लीः डॉक्टर पूनम वोहरा ने अपने घर में कल रात की खुदकुशी, जांच जारी

अर्बन कॉपोरेटिव बैंक के लिए रिजर्व बैंक ने एक बड़ी संस्था बनाने का प्रस्ताव दिया है। इसके अलावा किसानों के लिए बिना कुछ गिरवी रखे अब 1.6 लाख रुपए तक लोन मिलेगा।