PoK में इंडियन आर्मी के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सेंसेक्स धड़ाम, गिरा 500 अंक

भारतीय सेना द्वारा पीओके में आतंकियों के ठिकाने पर सर्जिकल स्ट्राइक के बयान आने के बाद गुरुवार को इसका असर सेंसेक्स में भी देखने को मिला। गुरुवार दोपहर 12:52 बजे सेंसेक्स 557.75 अंकों की गिरावट के साथ 27735 के स्तर पर देखा गया वहीं, निफ्टी में 170 प्वाइंट की गिरावट दर्ज की गई निफ्टी 8600 के स्तर पर देखा गया।

मुंबई: भारतीय सेना द्वारा पीओके में आतंकियों के ठिकाने पर सर्जिकल स्ट्राइक के बयान आने के बाद गुरुवार को इसका असर दलाल स्ट्रीट में भी देखने को मिला। गुरुवार दोपहर 12:52 बजे सेंसेक्स 557.75 प्वॉइंट्स की गिरावट के साथ 27735 के स्तर पर देखा गया।  वहीं, निफ्टी में 170 प्वॉइंट्सकी गिरावट दर्ज की गई निफ्टी 8600 के स्तर पर देखा गया।

सुबह तेजी के साथ बढ़ा था दलाल स्ट्रीट 
देश के शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में गुरुवार को मजबूती का रुख देखने को मिल रहा है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के बेंचमार्क सेंसेक्स में कारोबार की शुरुआत 181 अंकों की तेजी के साथ हुई। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 8,800 अंक के पार निकल गया था।

यह भी पढ़ें … #SurgicalStrike : भारतीय सेना को हर इंडियन का सेल्यूट, सोशल मीडिया में गूंजा JAI HO !

इन कंपनियों के गिरे शेयर
ओएनजीसी, एमऐंडएम, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, भारती एयरटेल कोल इंडिया लिमिटेड, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, मारुति सुजुकी, लार्सन ऐंड टुब्रो, बजाज ऑटो जैसी बड़ी कंपनियां शामिल हैं। वहीं, रुपया भी कमजोर होकर एक हफ्ते के निचले स्तर 66.82 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया।

यह भी पढ़ें … मोदी ने पूरा किया वादा, घर में घुसकर लिया उरी अटैक का बदला, बौखला गया PAK

शेयर ब्रोकरों के अनुसार, ओपेक सदस्य देशों के बीच तेल उत्पादन को सीमित रखने की आश्चर्यचकित करने वाली सहमति बनने से दुनियाभर के शेयर बाजारों में तेजी का रुख देखा गया। ग्लोबल लेवेल पर ब्रेंट क्रूड ऑयल का नवंबर डिलीवरी भाव 22 सेंट बढ़कर 48.91 डालर प्रति बैरल हो गया।

अगली स्लाइड में पढ़ें क्या होता है सर्जिकल स्ट्राइक ?
क्या है सर्जिकल स्ट्राइक ?
-सर्जिकल स्ट्राइक में अपने लक्ष्य में सरप्राइज अटैक यानी अचानक हमला किया जाता है।
-जिससे सामने वाले को किसी भी तरह की कार्रवाई का कोई मौका नहीं मिल पाता है ।
-यह सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन सेना द्वारा किया जाने वाला एक नियंत्रित हमला होता है।
-जिसमें किसी खास इलाके में पहले से तय विशेष ठिकाने पर हमला करके उसे खत्म किया जाता है।
-इससे सेना द्वारा बड़े पैमाने पर उस इलाके में बर्बादी को रोका जाता है।
-सर्जिकल स्ट्राइक में विशेष तरीके से अटैक करने के तरीके को डिजाइन किया जाता है।
-सेना द्वारा किए गए इस सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन में सिविलियन इलाके को कोई हानि नहीं होती है।
-इसका कारण यह है कि यह ऑपरेशन सिर्फ दुश्मनों के ठिकानों तक की नियंत्रित रहता है।

पिछले साल भी भारतीय सेना ने किया था सर्जिकल स्ट्राइक
भारतीय सेना द्वारा म्यांमार में पिछले साल किया गया सर्जिकल स्ट्राइक इसका सबसे बेहतर उदाहरण है। वहां भारतीय सेना के 70 जवानों ने म्यांमार में घुसकर 40 मिनट के अंदर 38 नगा विद्रोहियों को मार गिराया था। इस ऑपरेशन में 7 विद्रोही घायल हुए थे। गौरतलब है की अमेरिका ने भी सर्जिकल स्ट्राइक ऑपरेशन के तहत ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था