×

Sensex Today : फिर धड़ाम, सेंसेक्स में 99 अंकों की गिरावट

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 27 Feb 2018 10:44 AM GMT

Sensex Today : फिर धड़ाम, सेंसेक्स में 99 अंकों की गिरावट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

मुंबई : देश के शेयर बाजारों में मंगलवार को गिरावट दर्ज की गई। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 99.36 अंकों की गिरावट के साथ 34,346.39 पर और निफ्टी 28.30 अंकों की गिरावट के साथ 10,554.30 पर बंद हुए।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 112.81 अंकों की तेजी के साथ 34558.56 पर खुला और 99.36 अंकों या 0.29 फीसदी की गिरावट के साथ 34,346.39 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 34610.79 के ऊपरी और 34314.87 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी गिरावट रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 83.82 अंकों की गिरावट के साथ 16,601.05 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 63.99 अंकों की गिरावट के साथ 18,090.13 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी सुबह 32.6 अंकों की तेजी के साथ 10,615.20 पर खुला और 28.30 अंकों या 0.27 फीसदी की गिरावट के साथ 10,554.30 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,631.65 के ऊपरी और 10,537.25 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से 8 सेक्टरों में तेजी रही। दूरसंचार (0.97 फीसदी), ऊर्जा (0.52 फीसदी), प्रौद्योगिकी (0.31 फीसदी), सूचना प्रौद्योगिकी (0.26 फीसदी) और उपभोक्ता सेवाएं (0.26 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे - रियल्टी (2.03 फीसदी), बैंकिंग (1.43 फीसदी), वित्त (1.15 फीसदी), धातु (0.79 फीसदी) और आधारभूत सामग्री (0.59 फीसदी)।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story