×

ममता की रैली में मोदी को घेरने आए शरद 'राफेल' की जगह बोलने लगे 'बोफोर्स', BJP ने कही ये बात

भाषण देने आए लोकतांत्रिक जनता दल के अध्यक्ष शरद यादव की जुबान फिसल गई। शरद यादव मंच से बीजेपी को घेरने के प्रयास में 'राफेल घोटाले' की बजाय 'बोफोर्स घोटाले' पर बोलने लगे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 20 Jan 2019 10:55 AM GMT

ममता की रैली में मोदी को घेरने आए शरद राफेल की जगह बोलने लगे बोफोर्स, BJP ने कही ये बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की मेगा रैली में पहुंचे अलग-अलग विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने सत्तारूढ़ बीजेपी और पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। इसी क्रम में मंच पर भाषण देने आए लोकतांत्रिक जनता दल के अध्यक्ष शरद यादव की जुबान फिसल गई। शरद यादव मंच से बीजेपी को घेरने के प्रयास में 'राफेल घोटाले' की बजाय 'बोफोर्स घोटाले' पर बोलने लगे।

यह भी पढ़ें.....कुंभ: 14 से कम उम्र के बच्चों को रेडियो टैग लगाकर उन्हें खोने से बचा रही पुलिस

डेरेक ओ ब्रायन ने किया इशारा

शरद यादव ने कहा, 'बोफोर्स की लूट, फौज का हथियार और फौज का जहाज यहां लाने का काम हुआ है। ये जो सरकार है, भारत के लोग सीमा पर शहादत दे रहे हैं और डकैती डालने का काम बोफोर्स में हुआ है, डकैती हो गई है।' शरद के इतना कहते ही तृणमूल कांग्रेस नेता डेरेक ओ ब्रायन उनके पास आए गलती की ओर इशारा किया। शरद यादव ने तुरंत जोर से कहा, 'राफेल, माफ कीजिएगा मैं गलती से बोफोर्स बोल गया।'

यह भी पढ़ें.....कुंभ: पौष पूर्णिमा पर दूसरा बड़ा स्नान कल, सरकार ने किये अभूतपूर्व बंदोबस्त

बीजेपी ने ऐसे बोला हमला

शरद की इसी गलती पर बीजेपी ने तंज कसा। बीजेपी ने अपने ट्विटर हैंडल पर शरद यादव के भाषण में से वही हिस्सा काटकर पोस्ट किया, जिसमें वह राफेल की बजाय बोफोर्स घोटाले का जिक्र करते दिखाई दिए। इस पर बीजेपी ने लिखा, 'महागठबंधन के मंच पर नेताओं की जुबान से निकला सच।'

यह भी पढ़ें.....मेरठ: दो समुदायों के बीच टकराव के बाद तनाव

रैली में पूर्व जेडीयू नेता शरद यादव ने कहा कि यह इतिहास का बहुत बड़ा मौका है। उन्होंने कहा,' देश संकट में है, किसान तबाह है, नौजवान बर्बादी की कगार पर है। दुकानदारों का व्यापार GST के चलते बंद है। नोटबंदी की वजह से देश की अर्थव्यवस्था 12 साल पीछे चली गई।'

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story