×

Sheena Bora Murder Case: जानिए इस हाईप्रोफाइल मर्डर केस के बारे में, सालों जेल में रहीं इंद्राणी

Sheena Bora Murder Case: अपनी बेटी की हत्या का मुकदमा झेल रहीं इंद्राणी मुखर्जी जब सलाखों से बाहर आईँ तो उनके चेहरे पर जरा भी शिकन और थकान नजर नहीं आई हैं।

Krishna Chaudhary
Updated on: 20 May 2022 3:33 PM GMT
Sheena Bora Murder Case
X

Sheena Bora Murder Case

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sheena Bora Murder Case: साल 2012 में सामने आए बहुचर्चित शीना बोरा हत्याकांड की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी शुक्रवार शाम को जेल से बाहर आईं। उन्हें बुधवार को ही सुप्रीम कोर्ट ने बेल दी थी। इंद्राणी बीते करीब साढ़े छह सालों से अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के आरोप में मुंबई की महिला भायखला जेल में बंद थी। इससे पहले बेल के लिए उन्हें काफी जतन करने पड़े थे। निचली अदालत और बॉम्बे हाईकोर्ट से उनकी सात जमानत याचिका खारिज हो चुकी थी।

इसके बाद उन्होंने देश की सर्वोच्च अदालत की ओर रूख किया, जहां अदालत ने बुधवार को यह कहते हुए जमानत दे दी कि शीना बोरा हत्याकांड की जांच अभी काफी लंबी चलेगी, लिहाजा इतने लंबे समय तक इंद्राणी मुखर्जी को जेल में नहीं रखा सकता। रिहाई के लिए इंद्राणी की ओर से 2 लाख रुपये का बांड विशेष सीबीआई अदालत में जमा करवाया गया है।

जेल से निकलने के बाद काफी खुश दिखीं इंद्राणी

अपनी बेटी की हत्या का मुकदमा झेल रहीं इंद्राणी मुखर्जी जब सलाखों से बाहर आईँ तो उनके चेहरे पर जरा भी शिकन और थकान नजर नहीं आई हैं। जेल से बाहर निकलने के बाद मीडिया को दी अपनी पहली प्रतिक्रिया में इंद्राणी ने कहा कि मैं काफी खुश हूं। अभी घर जा रही हूं, आगे की कोई योजना नहीं है, अभी तो सिर्फ घर जाना है।। इस दौरान वो उसी कॉरपोरेट लुक में दिखीं, जिस लुक में वो जेल गईं थी। इंद्राणा को अगस्त 2015 में अरेस्ट किया गया था, तब से वह मुंबई के महिला भायखला जेल में बंद थी।

क्या है शीना बोरा हत्याकांड

देश का सबसे चर्चित मर्डर मिस्ट्री बन चुका शीना बोरा हत्याकांड का खुलासा तब हुआ, जब इंद्राणी मुखर्जी के ड्राइवर श्यामवर राय को पुलिस ने बंदूक के साथ अरेस्ट किया था। राय ने बताया था कि शीना की हत्या 24 अप्रैल 2012 को इंद्राणी मुखर्जी ने कार में गला दबाकर कर दी थी। इंद्राणी की गिरफ्तारी के बाद उनके पूर्व पति संजीव खन्ना को भी बेटी की हत्या में मदद करने और सबूत मिटाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। बाद में सीबीआई ने उनके दूसरे पति पीटर मुखर्जी को भी गिरफ्तार कर लिया था। उन्हें 2020 में ही जमानत मिल गई थी। केस के ट्रायल के दौरान ही पीटर और इंद्राणी ने अपने 17 साल पुराने वैवाहिक जीवन को खत्म कर तलाक ले लिया था।

Admin 2

Admin 2

Next Story