×

खुलासा: यूपी में हुए CAA के हिंसक प्रदर्शन में PFI का हाथ, तीन लोग गिरफ्तार

पूरे देश में नागरिकता कानून को लेकर तनाव का माहौल है। लोग कुछ सुनने-समझने को तैयार नहीं हैं।इसके लिए देश भर में प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी के खिलाफ असोम उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और कई इलाकों में हिंसात्मक प्रदर्शन हुए है।

suman

sumanBy suman

Published on 23 Dec 2019 5:26 PM GMT

खुलासा:  यूपी में हुए CAA के हिंसक प्रदर्शन में PFI का हाथ, तीन लोग गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: पूरे देश में नागरिकता कानून को लेकर तनाव का माहौल है। लोग कुछ सुनने-समझने को तैयार नहीं हैं।इसके लिए देश भर में प्रदर्शन हो रहे हैं। इसी के खिलाफ असोम उत्तर प्रदेश, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और कई इलाकों में हिंसात्मक प्रदर्शन हुए है। खबर है कि इस हिंसा भड़काने में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया(pfi) का हाथ है।

सीएए के विरोध प्रदर्शन के समय लखनऊ में पुलिस ने नदीम, वसीम और अशफाक तीन युवकों की गिरफ्तारी की है। पुलिस के अनुसार, प्रदेश के अन्य जिलों में हुई गिरफ्तारियों में भी इसी संगठन के उपद्रवी हैं।

यह पढ़ें...भीमा कोरेगांव: 202 वीं वर्षगाठ से पहले 163 को नोटिस,इसमें एकबोटे-भिडे भी शामिल

बता दें कि पीएफआई, सिमी का एक लघु रूप है। इसमें कई ऐसे लोग हैं, जो पूर्व में सिमी से जुड़े थें। राज्य के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने भी रविवार को लोकभवन में हिंसा के पीछे इसी संगठन के होने की बात कही थी।

राज्यभर में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा को लेकर अब तक 164 मामले दर्ज किए गए हैं। इन मामलों में नामजद 880 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। साथ ही बड़े पैमाने पर सीसीटीवी फुटेज, ड्रोन कैमरे और मोबाइल से ली गई तस्वीरों को सोशल मीडिया के जरिये जारी कर शिनाख्त की कोशिश की जा रही है।

यह पढ़ें...वित्त मंत्रालय:भारतीयों के स्विस बैंक में जमा धन की नहीं देगा जानकारी, वजह है बड़ी

आईजी ने कहा कि रविवार को राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। उन्होंने बताया कि अब तक 5312 लोगों को हिरासत में लेकर निरोधात्मक कार्रवाई की गई है। उग्र प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा, आगजनी और तोड़फोड़ की घटनाओं में 288 पुलिस कर्मी घायल हुए हैं, इसमें 61 को गोली लगी है। आईजी ने बताया कि घटनास्थलों से 647 .315 बोर और 12 बोर के खोखे बरामद किए गए हैं। जबकि 69 कारतूस व 35 अवैध तमंचे भी बरामद हुए हैं।

वहीं, सोशल मीडिया पर भी निगरानी लगातार जारी है। अब तक 6612 ट्विटर पोस्ट और 8577 फेसबुक व 155 यूट्यूब एवं अन्य प्रोफाइल पोस्टों पर कार्रवाई के लिए सर्विस प्रोवाइडर से संपर्क किया गया है।

suman

suman

Next Story