सवालों पर स्मृति बोलीं- कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना

Published by Rishi Published: July 7, 2016 | 2:59 am
Modified: July 30, 2016 | 12:49 pm

नई दिल्लीः मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) से कपड़ा मंत्रालय भेजी गईं स्मृति ईरानी ने बुधवार को अपनी एक इच्छा जताई है। स्मृति ने बतौर कपड़ा मंत्री कामकाज संभालने के दौरान उम्मीद जताई कि एचआरडी के नए मंत्री प्रकाश जावड़ेकर उनके किए काम को आगे ले जाएंगे। बता दें कि स्मृति दो साल तक एचआरडी मंत्रालय संभाल चुकी हैं और तमाम विवादों में वह घिरी थीं।

क्या बोलीं स्मृति?
-स्मृति ईरानी ने एचआरडी मंत्रालय में अपने काम के बारे में बताया।
-उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के बताए रास्ते पर ही वह चलती रहीं।
-शिक्षा के क्षेत्र में बदलाव के लिए उठाए गए अपने कदमों की जानकारी दी।
-जावड़ेकर से उम्मीद जताई कि वह उनके दो साल के काम को और आगे ले जाएंगे।

और क्या बोलीं स्मृति?
-मिनिस्ट्री बदले जाने के सवाल पर बोलीं, ‘कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना।’
-कपड़ा मंत्रालय में मीडिया के काफी लोग आए थे, स्मृति ने इस पर कहा कि इससे लगता है कि आप मुझे पसंद करते हैं।
-नया मंत्रालय मिलने पर कहा कि पीएम मोदी ने उनकी कार्यकुशलता को देखते हुए फैसला किया है।

क्यों हटाया गया स्मृति को?
-अमित शाह उनकी परफॉर्मेंस से खुश नहीं थे, विवादों ने आग में घी का काम किया।
-आरएसएस भी उनके कई बयानों से खुश नहीं था।
-आईआईएम फीस विवाद में वह पीएमओ के रुख के उलट चल रही थीं।

बड़ी जिम्मेदारी सौंपे जाने की भी अटकलें
-स्मृति से एचआरडी छीने जाने को लेकर कई अटकलें भी लगाई जा रही हैं।
-चर्चा है कि बीजेपी उन्हें कोई बड़ी जिम्मेदारी देने वाली है।
-कहा जा रहा है कि यूपी में उन्हें सीएम कैंडिडेट के तौर पर उतारा जा सकता है।
-पिछले लोकसभा चुनाव में स्मृति ने अमेठी में राहुल गांधी को कड़ी टक्कर दी थी।
– इसकी वजह यह भी है कि पिछले लोकसभा चुनाव में ईरानी ने अमेठी से राहुल गांधी को कड़ी टक्कर दी थी।