×

दुुल्हन का मातमः विदाई में रोते-रोते तोड़ा दम, मौत से दूल्हा समेत बराती दंग

 यहां जुलांडा गांव के मुरली साहू की बेटी रोजी बला बलांगीर जिले के टेटलगांव निवासी बिसीकेसन के साथ शादी के बंधन में बंध गई, लेकिन जब उसकी विदाई हो रही थी तभी यह घटना घट गई। विदाई के दौरान दुल्हन लगातार रो रही थी।

suman

sumanBy suman

Published on 6 March 2021 5:22 AM GMT

दुुल्हन का मातमः विदाई में रोते-रोते तोड़ा दम, मौत से दूल्हा समेत बराती दंग
X
ये पूरा वाकया खेड़ली थाने का है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक 26 साल की महिला को उसका पति तलाक देना चाहता था। लेकिन महिला इसके लिए राजी नहीं थी।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

सोनपुर ओडिशा के सोनपुर में शादी की खुशियां उस वक्त मातम में तब्‍दील हो गईं , जब विदाई के दौरान ही दुल्‍हनकी मौत हो गई। विदाई के समय दुल्हन इतना रोई की उसे दिल का दौरा पड़ गया और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस हैरान कर देने वाला मामला सामने आने से वहां के लोग सकते में है।

डॉक्टर ने मृत घोषित किया

यहां जुलांडा गांव के मुरली साहू की बेटी रोजी बला बलांगीर जिले के टेटलगांव निवासी बिसीकेसन के साथ शादी के बंधन में बंध गई, लेकिन जब उसकी विदाई हो रही थी तभी यह घटना घट गई। विदाई के दौरान दुल्हन लगातार रो रही थी। फिर अचानक वह बेहोश हो गई और जमीन पर गिर गई।

यह पढ़ें...पढ़ाना छोड़ रंगोली सजाएंगे टीचर्स, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी का तुगलकी फरमान

मौके पर मौजूद परिवार के सदस्यों और रिश्तेदारों ने उसके हाथों की मालिश करके और उसके चेहरे पर पानी छिड़क कर उसे जगाने की कोशिश की। लेकिन उसे होश में लाने के सभी प्रयास विफल रहे। उसे तुरंत डूंगुरिपाली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। अस्पताल में पहुंचते ही डॉक्टर ने दिल का दौरा पड़ने के कारण उसे मृत घोषित कर दिया।

यह पढ़ें...फिर बंद हुए स्कूलः कोरोना का कहर दोबारा, आसान नहीं महामारी से जंग

तनाव में थी दुल्हन

जानकारी मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंची और पोस्टमॉर्टम के बाद शव को परिवार वालों को सौंप दिया गया। रोजी की मौत की खबर के बाद इलाके में लोग हैरान हैं और दुखी हैं। अस्पताल में पहुंचते ही डॉक्टर ने दिल का दौरा पड़ने के कारण उसे मृत घोषित कर दिया। जानकारी मिलते ही पुलिस अस्पताल पहुंची और पोस्टमॉर्टम के बाद शव को जुलुंडा गांव के एक निवासी ने बताया कि रोजी काफी तनाव में जी रही थी क्योंकि उसने कुछ महीने पहले अपने पिता को खो दिया था। उसके मामा और कुछ सामाजिक कार्यकर्ताओं ने मिलकर इस विवाह का आयोजन किया था। गांव में रोजी की मौत की खबर से मातम का महौल है।

suman

suman

Next Story