×

राज्य सरकारों ने पुलवामा हमले में शहीदों के परिजनों को दी मदद

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए हमले में 38 जवान शहीद हो गए हैं। शहीदों के परिजनों की मदद के लिए देश की राज्य सरकारें सामने आई हैं। यूपी, राजस्थान, असम, ओडिशा, समेत कई राज्यों की सरकार ने शहीदों के परिजनों को सहायता राशि देने की घोषणा की है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 16 Feb 2019 6:38 AM GMT

राज्य सरकारों ने पुलवामा हमले में शहीदों के परिजनों को दी मदद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए हमले में 38 जवान शहीद हो गए हैं। शहीदों के परिजनों की मदद के लिए देश की राज्य सरकारें सामने आई हैं। यूपी, राजस्थान, असम, ओडिशा, समेत कई राज्यों की सरकार ने शहीदों के परिजनों को सहायता राशि देने की घोषणा की है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने शहीद जवानों के परिवारों को 25-25 लाख रुपये अनुग्रह राशि देने का ऐलान किया है। साथ ही परिवार के एक व्यक्ति को राज्य सरकार नौकरी भी देगी। वहीं इस हमले में उत्तर प्रदेश के सबसे ज्यादा 12 जवान शहीद हुए हैं।

यह भी पढ़ें.....पुलवामा हमला: भारत के साथ आए दुनियाभर के देश, कहा- ‘हम भारत के साथ खड़े हैं’

असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने आतंकी हमले में शहीद हुए प्रदेश के सीआरपीएफ जवान मुनेश्वर बासुमतरी के परिवार को 20 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की। बासुमतरी के बलिदान पर दुख जताते हुए सोनोवाल ने कहा कि उनके बलिदान को पूरा देश याद रखेगा। शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए सोनोवाल ने पुलवामा में घायल हुए जवानों के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की।

राजस्थान सरकार ने हमले में शहीद हुए राज्य के जवान की पत्नी को 25 लाख रूपए व एक एक परिजन को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। इस आतंकी हमले में राज्य के पांच जवान शहीद हुए हैं।

यह भी पढ़ें.....पुलवामा आतंकी हमले पर विरोध दर्ज कराने पहुंचे बीजेपी मेयर की संवेदनहीनता कैमरे में कैद2019

एक सरकारी बयान में कहा गया है कि इन घोषणाओं के तहत शहीद की पत्नी को एक लाख रूपये तथा 25 बीघा भूमि, हाउसिंग बोर्ड का एमआईजी मकान या पच्चीस लाख रूपये नकद दिए जाएंगे। इसी तरह शहीद जवान के माता-पिता को अल्प बचत योजना की मासिक आय योजना में तीन लाख रूपये की सावधि जमा दी जाएगी।

शहीद जवान के बच्चों को राज.विद्या.कॉलेज, तकनीकी शिक्षा, मेडिकल इंजीनियरिंग में नि:शुल्क शिक्षा दी जाएगी। इसी तरह विद्यालय जाने वाले बच्चों को प्रतिवर्ष 1800 रूपये छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। कॉलेज, तकनीकी, मेडिकल, इंजीनियरिंग शिक्षा के लिये यह राशि प्रतिवर्ष 3600 रूपये होगी। यह छात्रवृत्ति शिक्षा विभाग के माध्यम से दी जाएगी।

यह भी पढ़ें.....पाक आतंकी ने त्राल में रची थी पुलवामा हमले की साजिश, 7 लोगों को हिरासत में लिया

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने शहीद जवानों के परिवारों को 50-50 लाख रूपये बतौर आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। देवेंद्र फडणवीस ने प्रदेश के शहीद जवानों संजय राजपूत और नीतिन राठौड़ की तस्वीरें ट्वीट की। दोनों जवान बुलढाणा जिले के मल्कापुर और लोनर शहर के रहने वाले हैं। फडणवीस ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि भी दी। इस हमले में महाराष्ट्र के दो जवान शहीद हुए हैं।

ओडिशा के दो शहीद जवानों के प्रत्येक परिवार को नवीन पटनायक सरकार ने शुक्रवार को दस-दस लाख रूपये बतौर आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। दोनों जवानों के परिवार के सदस्यों के साथ बातचीत करने के बाद सीएम नवीन पटनायक ने इसकी घोषणा की। प्रदेश के जगतसिंहपुर और कटक जिले के जवान क्रमश: प्रसन्ना साहू एवं मनोज बेहेरा हमले में शहीद हो गए थे।

यह भी पढ़ें.....डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में लगाई इमरजेंसी, बताई ये वजह

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने हमले में शहीद हुए झारखंड के गुमला जिले के जवान विजय सोरेंगे के एक परिजन को सरकारी नौकरी एवं उनके परिजनों को दस लाख रुपये की सहायता राशि तत्काल देने की घोषणा की।

हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर ने हमले में शहीद हुए जवान तिलक राज के परिजनों के लिए 20 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है।

यह भी पढ़ें.....कहीं ये गर्भनिरोधक गोलियां आजीवन छीन न लें आपकी कोख, रिसर्च में सामने आई ये बड़ी बात

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हमले में शहीद हुए राज्य के जवानों के परिजनों को 25-25 लाख रूपये की आर्थिक सहायता राशि देने का ऐलान किया। शहीदों के एक परिजन को योग्यता अनुसार सरकारी नौकरी भी दी जाएगी।

इसके अलावा त्रिपुरा सरकार ने भी हमले में शहीद हुए जवानों के परिवारों को दो लाख रुपये की राशि का सहयोग करने का निर्णय लिया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story