सरकार की 27 अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई, 14 इंजीनियर निलंबित, मचा हड़कंप

बीते साल बारिश और बाढ़ की वजह से भारी तबाही मची थी और आम लोगों को घर में ही ‘कैद’ होना पड़ा था। इससे बिहार की नीतीश सरकार की भी जमकर किरकिरी हुई थी। पटना सहित राज्य के कई इलाकों में बाढ़-बारिश से 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी।

नई दिल्ली: बीते साल बारिश और बाढ़ की वजह से भारी तबाही मची थी और आम लोगों को घर में ही ‘कैद’ होना पड़ा था। इससे बिहार की नीतीश सरकार की भी जमकर किरकिरी हुई थी। पटना सहित राज्य के कई इलाकों में बाढ़-बारिश से 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी।

अब राजधानी पटना में जलजमाव को लेकर प्रदेश के 27 अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई की गई है। इनमें आईएएस अधिकारी अमरेंद्र प्रताप सिंह भी शामिल हैं। वहीं, पटना नगर निगम के तत्कालीन कमिश्नर अनुपम कुमार सुमन के खिलाफ कार्रवाई की भी अनुशंसा किए जाने की योजना है।

सोमवार को नगर विकास विभाग के अधिकारी ने कहा कि पटना में भारी जलजमाव के बाद गठित कमिटी की रिपोर्ट के बाद यह कार्रवाई की गई है। इस रिपोर्ट पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी अनुमोदन किया है।

यह भी पढ़ें…BJP ने सांसदो को जारी किया व्हिप, ट्रेंड करने लगे यूनिफॉर्म सिविल कोड समेत ये मुद्दे

जानकारी के मुताबिक इस मामले में आरोपी अधिकारियों ने अपने कर्तव्यों के पालन में घोर लापरवाही बरती, जिससे शहर के डूबने की नौबत आई। जलजमाव के लिए जिम्मेदार 14 इंजीनियरों को भी निलंबित कर दिया गया है। अब उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें…दिल्ली की इन 12 सीटों पर टिकी हैं सबकी नजर, जानें कौन है लड़ाई में

तो वहीं, इसके अलावा संविदा पर तैनात 7 इंजीनियरों को कार्यमुक्त करने का फैसला किया गया है। बताया गया कि कर्तव्यों के प्रति लापरवाही के मामले में उनसे सवाल-जवाब किया गया है और आरोपी इंजीनियरों के जवाब देते ही उन्हें कार्यमुक्त कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें…Delhi Election Result 2020: रूझानों में AAP की जीत, जानिए क्या बोले BJP नेता

गौरतलब है कि बीते साल भारी बारिश और बाढ़ से पटना सहित अन्य इलाकों में जलभराव के चलते त्राहिमाम मच गया था। इस आपदा में राज्य में 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी। पटना में रातभर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया था। अभी भी कई-कई दिनों तक लोग भूखे-प्यासे घरों में कैद रहे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App