×

Subrata Roy Sahara: खेलों के प्रति थी जबर्दस्त दीवानगी, लंबे समय तक टीम इंडिया की जर्सी पर चमकता रहा 'सहारा' का नाम

Subrata Roy Sahara: टीम इंडिया की जर्सी पर सहारा का नाम चमकता रहा। क्रिकेट के अलावा हॉकी के खेल को बढ़ावा देने में भी सुब्रत रॉय की अगुवाई में सहारा इंडिया परिवार ने काफी काम किया।

Anshuman Tiwari
Written By Anshuman Tiwari
Published on: 15 Nov 2023 4:34 AM GMT
Subrata Roy Sahara Passion for Sports
X

Subrata Roy Sahara Passion for Sports (Photo: Social Media)

Subrata Roy Sahara in Cricket: सहारा समूह के मुखिया सुब्रत रॉय सहारा का मंगलवार को मुंबई में निधन हो गया। वे लंबे समय से कई बीमारियों से जूझ रहे थे। सुब्रत रॉय के जीवन के विविध पहलू थे और इनमें एक महत्वपूर्ण पहलू यह था कि खेलों के प्रति उनके भीतर जबर्दस्त दीवानगी थी। वे हर तरह के खेलों को आगे बढ़ाने में काफी दिलचस्पी लिया करते थे।

क्रिकेट के प्रति उनके भीतर खास लगाव था। इसी कारण भारतीय क्रिकेट टीम की स्पॉन्सरशिप में उन्होंने गहरी दिलचस्पी ली थी। लंबे समय तक टीम इंडिया की जर्सी पर सहारा का नाम चमकता रहा। क्रिकेट के अलावा हॉकी के खेल को बढ़ावा देने में भी सुब्रत रॉय की अगुवाई में सहारा इंडिया परिवार ने काफी काम किया।



11 वर्षों तक टीम इंडिया की स्पॉन्सरशिप

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए सहारा इंडिया काफी समय तक का प्रायोजक बना रहा। करीब 11 वर्षों तक भारतीय क्रिकेट टीम के प्रायोजक रहे सहारा ने बीसीसीआई से 1 जुलाई, 2010 को नया करार किया था, जो 31 दिसंबर, 2013 तक चलना था मगर 2012 में सहारा ने हैरानी भरा फैसला लेते हुए बीसीसीआई के साथ अपना करार तोड़ लिया था। दरअसल नई शर्तों के तहत सहारा की ओर से बीसीसीआई को प्रत्येक टेस्ट, वनडे और ट्वेंटी-20 अंतरराष्ट्रीय के लिए तीन करोड़ 34 लाख रुपये का भुगतान किया जा रहा था।

2012 में तोड़ लिया था करार

सहारा इंडिया की ओर से 2012 में जारी बयान में भारी मन से करार तोड़ने की बात कही गई थी। करार तोड़ते हुए सहारा इंडिया ने अपने बयान में कहा था कि प्रायोजक के रूप में 11 बरस की यात्रा के बाद हम निश्चित तौर पर कह सकते हैं कि क्रिकेट काफी अमीर बन गया है। कई अमीर लोग मजबूत इच्छा के साथ क्रिकेट का समर्थन करने के लिए मौजूद हैं। इसलिए हम पूरी मानसिक शांति के साथ बीसीसीआई के अंतर्गत आने वाले क्रिकेट से हट रहे हैं और ऐसा हम भारी मन के साथ कर रहे हैं। टीम इंडिया की स्पॉन्सरशिप के अलावा सहारा ने आईपीएल में पुणे वॉरियर्स टीम को भी खरीदा था मगर बाद में सहारा ने इस टीम से भी अपना हाथ खींच लिया था।



शीशमहल टूर्नामेंट को दिया था जीवनदान

क्रिकेट के अलावा भारतीय हॉकी टीम को मजबूती देने में भी सुब्रत रॉय सहारा ने गहरी दिलचस्पी ली थी। सहारा के सहयोग से लखनऊ में लंबे समय तक समय-समय पर कैंपों का आयोजन किया गया। देशभर में चर्चित लखनऊ के शीशमहल क्रिकेट टूर्नामेंट को जीवनदान देने में भी सहारा परिवार ने बड़ी भूमिका निभाई थी।

सहारा की ओर से सहयोग मिलने के बाद शीशमहल क्रिकेट प्रतियोगिता का स्तर काफी बढ़ गया था और देश के चर्चित क्रिकेट सितारों ने केडी सिंह बाबू स्टेडियम में होने वाली इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था।



इस कारण लखनऊ के क्रिकेट फैंस को कई चर्चित क्रिकेटरों का खेल देखने का मौका मिला था। लखनऊ में क्रिकेट ग्राउंड तैयार करने में भी सुब्रत राय सहारा ने गहरी दिलचस्पी ली थी। सुब्रत राय ने युवा क्रिकेटरों को सुविधाएं मुहैया कराने के लिए ये क्रिकेट ग्राउंड तैयार किए थे।

Snigdha Singh

Snigdha Singh

Leader – Content Generation Team

Hi! I am Snigdha Singh from Kanpur. I Started career with Jagran Prakashan and then joined Hindustan and Rajasthan Patrika Group. During my career in journalism, worked in Kanpur, Lucknow, Noida and Delhi.

Next Story