×

SC से सुब्रत राय को मिली एक हफ्ते की मोहलत, कपिल सिब्बल ने मांगी माफी

aman

amanBy aman

Published on 23 Sep 2016 7:27 AM GMT

SC से सुब्रत राय को मिली एक हफ्ते की मोहलत, कपिल सिब्बल ने मांगी माफी
X
सहारा को बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- और नहीं मिलेगी मोहलत
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सहारा प्रमुख सुब्रत राय को राहत देते हुए सरेंडर करने के लिए एक सप्‍ताह का समय दिया है। साथ ही बुधवार को उनकी पैरोल बढ़ाने की याचिका पर सुनवाई पर भी सहमति जताई है। इससे पहले शुक्रवार सुबह कोर्ट ने सुब्रत राय को जेल भेजे जाने का आदेश दिया था।

कपिल सिब्‍बल ने बिना शर्त माफी मांगते हुए इस आदेश को रद्द करने और पैरोल पर पुनर्विचार की अपील की थी। सिब्‍बल ने कहा कि वरिष्‍ठ वकील राजीव धवन अब इस मामले में कोर्ट में पेश नहीं होंगे। शुक्रवार सुबह धवन के तर्कों से गुस्साए चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर की बैंच ने सुब्रत राय की पैरोल को रद्द करने का फैसला दिया था। ज्ञात हो कि दो साल जेल की सजा काट चुके सुब्रत राय इस वक्त पैरोल पर बाहर हैं। मई में उन्हें पैरोल मिली थी।

कोर्ट ने खारिज की अर्जी

सुप्रीम कोर्ट ने मई महीने में सुब्रत राय की मां के देहांत के बाद पहली बार उन्हें पैरोल दिया था। तब उन्हें 28 दिनों की पैरोल मिली थी। जिसे बाद में कोर्ट ने बढ़ाया था। शुक्रवार को सुब्रत राय के वकील ने पैरोल बढ़ाने के लिए अर्जी दी थी। लेकिन कोर्ट ने कहा, 'आप वापस जेल जा रहे हैं।

पूछा था आय का स्रोत

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने सहारा समूह से पूछा था कि उसने किन स्रोतों से 25,000 करोड़ रुपए जुटाकर निवेशकों को नकद में भुगतान किया है। कोर्ट ने सहारा समूह से कहा कि वह यह राशि जुटाने के स्रोतों का खुलासा कर सामने आएं। शीर्ष अदालत ने कहा था कि यह बात हजम करना मुश्किल है क्योंकि इतनी बड़ी राशि असमान से तो नहीं बरसी होगी।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story