सूरत में आग से 20 की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख, हादसे की जांच के आदेश

गुजरात के सूरत में शुक्रवार को तक्षशिला कॉम्प्लेक्स की दूसरी मंजिल पर स्थित एक कोचिंग सेंटर में भीषण आग लग जाने से अफरातफरी मच गई। इस दौरान आग और धुएं से बचने के लिए कुछ छात्रों ने तीसरी और चौथी मंजिल से कूदकर जान बचाई। आग की चपेट में आने से करीब 20 छात्रों की मौत हो गई।

तक्षशिला कॉम्प्लेक्स में आग लगने के दौरान ली गई फोटो

तक्षशिला कॉम्प्लेक्स में आग लगने के दौरान ली गई फोटो

अहमदाबाद: गुजरात के सूरत में शुक्रवार को तक्षशिला कॉम्प्लेक्स की दूसरी मंजिल पर स्थित एक कोचिंग सेंटर में भीषण आग लग जाने से अफरातफरी मच गई। इस दौरान आग और धुएं से बचने के लिए कुछ छात्रों ने तीसरी और चौथी मंजिल से कूदकर जान बचाई। आग की चपेट में आने से करीब 20 छात्रों की मौत हो गई।

हालांकि अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है। मारे गए लोगों की संख्या और भी बढ़ सकती है। मारे गए लोगों की पहचान नहीं हो पाई है।वहीं इस मामले में सूरत के पुलिस कमिश्नर का कहना है कि मृतकों की संख्या में इजाफा हो सकता है। फिलहाल खबर आ रही है बिल्डिंग में लगी आग पर काबू पा लिया गया है,दमकल विभाग की करीब 18 गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।

इस भीषण अग्निकांड पर गुजरात के सीएम विजय रूपानी ने गहरा दुख जताया है। उन्होंने इस हादसे की जांच के आदेश दिए हैं और इसके साथ ही पीड़ित परिजनों को चार लाख रुपए मुआवजे का ऐलान किया है।

 

गृहमंत्री राजनाथ ने जताया दुःख
तक्षशिला इमारत में लगी आग पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी दुख जताया है। उन्होंने कहा कि दुख की इस घड़ी में उनकी संवेदना पीड़ित परिजनों के साथ है। इसके साथ ही उन्होंने गुजरात सरकार से तत्काल राहत पहुंचाने की अपील की।

सूरत की इमारत में भीषण आग पर पीएम नरेंद्र मोदी ने चिंता जताई। उन्होंने कहा कि दुख की घड़ी में वो पीड़ित परिवार के साथ है। वो भगवान से प्रार्थना करते हैं कि जो लोग इस हादसे में घायल हुए हैं वो जल्द से जल्द स्वस्थ हों। उन्होंने गुजरात सरकार और स्थानीय प्रशासन से कहा कि वो पीड़ितों को तुरंत सहयोग मुहैया कराएं।

ये भी पढ़ें…गुजरात: आणंद जिले के आकलाव के पास वैन और टैंकर के बीच टक्कर, 9 लोगों की मौत