×

लालू के बेटे तेजप्रताप बाबा के दरबार में लगाई हाजिरी, बिहार के हालात पर साधी चुप्पी

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 28 Aug 2018 2:34 PM GMT

लालू के बेटे तेजप्रताप बाबा के दरबार में लगाई हाजिरी, बिहार के हालात पर साधी चुप्पी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

वाराणसी : राष्ट्रीय जनता दल के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे व बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने श्री काशी विश्वनाथ दरबार मे हाजिरी लगाई। मंगलवार की दोपहर 3 बजे तेज प्रताप बाबा दरबार पहुंचे। इस दौरान उन्होंने काशी पुराधिपति का विधि-विधान से षोडशोपचार पूजन कर श्री काशी विश्वनाथ का आशीर्वाद लिया। मंदिर से बाहर निकलने पर मीडिया ने घेरा तो तेजप्रताप ने चुप्पी साध ली। बिहार के मौजूदा हालात पर सवाल हुए तो सिर्फ इतना कहा कि वो तो सबको बता है।

ये भी देखें : Assam NRC: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, बाहर रखे गए 10 फीसदी लोगों का दोबारा हो सत्यापन

बगैर प्रोटोकॉल के पहुंचे काशी

तेजप्रताप बगैर किसी प्रोटोकॉल के अचानक काशी पहुंचे। उनके साथ सिर्फ तीन लोग मौजूद थे। मंदिर में दर्शन करने के दौरान वहां मौजूद लोग कुछ देर तक कुछ समझ नहीं पाए। लोग कुछ देर तक उन्हें पहचानने की कोशिश करते रहे। लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप को धार्मिक प्रवृत्ति का माना जाता है। सावन मास के दौरान तेजप्रपात कांवड लेकर बैजनाथ धाम भी गए थे। तेजप्रताप के शिव अवतार वाली फोटो सुर्खियां भी बनी थी। इस दौरान जब उनके काशी विश्वनाथ मंदिर आने का कारण जानना चाहा तो मुस्कुराकर बोले की जो मांगने आया था वो अगर मिल गया तो ज़रूर बताऊंगा पर अभी कुछ नहीं और आगे बढ़ गये।

ये भी देखें : वैष्णो देवी: इन सुविधाओं के कारण अब और सुरक्षित व आसान होगी यात्रा

बिहार के हालात पर साधी चुप्पी

बिहार में हाल के दिनों में हुई घटनाओं को लेकर राज्य सरकार कठघरे में है। चाहे मुजफ्फपुर की घटना हो या फिर सहरसा की घटना। बेटियों के साथ छेड़छाड़ की घटनाएं राज्य सरकार के मुंह पर करारा तमाचा की तरह है। इन घटनाओं ने विपक्ष को भी घेरने का मौका दे दिया है। तेजप्रपात यादव भी बिहार के नीतीश कुमार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ते हैं। लेकिन बनारस दौरे के दौरान उनका बदला हुआ अंदाज लोगों को हैरान करने वाला लगा।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story