कल रात मिस कर दिया ‘फुल मून’ नजारा तो ना हो उदास, यहां देख ले तस्वीरें व VIDEO

साल 2020 का पहला चंद्र ग्रहण 10 जनवरी की रात में 10 बजकर 37 मिनट से शुरू हुआ और 11 जनवरी को मध्यरात्रि में 2 बजकर 42 मिनट पर खत्म हुआ। इस चंद्र ग्रहण की अवधि 4 घंटे 5 मिनट की रही। इस दौरान भारत सहित दुनिया के कई देशों में चंद्र ग्रहण अद्भुत नजारा देखने को मिला।

Published by suman Published: January 11, 2020 | 7:26 am

नईदिल्ली :साल 2020 का पहला चंद्र ग्रहण 10 जनवरी की रात में 10 बजकर 37 मिनट से शुरू हुआ और 11 जनवरी को मध्यरात्रि में 2 बजकर 42 मिनट पर खत्म हुआ। इस चंद्र ग्रहण की अवधि 4 घंटे 5 मिनट की रही। इस दौरान भारत सहित दुनिया के कई देशों में चंद्र ग्रहण अद्भुत नजारा देखने को मिला। बता दें कि चंद्र ग्रहण की घटना तब घटित होती है जब सूर्य और चंद्रमा के बीच में पृथ्वी आ जाती है और सूर्य का प्रकाश चंद्रमा तक नहीं पहुंच पाता।

यह पढ़ें….बस कुछ घंटों में दिखेगा चंद्र ग्रहण का प्रभाव, जानिए सावधानी व मिलने वाले लाभ

 

 

21वीं सदी के दूसरे दशक का पहला चंद्र ग्रहण 02.42 पर समाप्त हो गया । चंद्र ग्रहण 4 घंटें की अवधि के दौरान ‘फुल मून’ की दिलचस्प फोटो सोशल मीडिया के जरिए लगातार लोगों के बीच पहुंची।’फुल मून’ का यह आकर्षक रूप बहुत कम बार देखने को मिलता है। इस साल 13 बार ऐसा समय आएगा जब आसमान में चांद पूरा दिखाई देगा।सोशल मीडिया पर विदेशों से फुल मून की फोटो भी शेयर किया। केन्या की राजधानी नैरोबी से एक यूजर ने फुल मून की तस्वीर ट्विटर पर शेयर की।

ब्रिटेन की राजधानी लंदन में भी लोगों ने फुल मून का दीदार किया। आसमान में चमकते दशक के पहले फुल मून का एक वीडियो यूजर ने ट्विटर पर शेयर किया। फुल मून को ‘वुल्फ मून’ भी कहा जाता है। दशक का पहला चंद्र ग्रहण लगते ही चांद की दूधिया रोशनी से आसमान जगमगा उठा है। यह दशक का पहला ‘फुल मून’ है।

 

 

 

इस चंद्र ग्रहण पर सुपरमून नजर नहीं आएगा। इसके लिए अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। आम लोगों से लेकर देश-दुनिया की तमाम एजेंसियों के लिए चंद्र ग्रहण उत्सुकता का विषय है। तमाम स्पेस एजेंसियां चंद्र ग्रहण को लेकर लगातार अपडेट्स देती रही। इस दौरान भारत सहित दुनिया के कई देशों में चंद्र ग्रहण अद्भुत नजारा देखने को मिला।

 

यह पढ़ें….राष्ट्रीय युवा महोत्सव में नीति आयोग के सीईओ करेंगे युवाओं से संवाद

 

बता दें कि 10 जनवरी के चंद्र ग्रहण के बाद 2020 में कई और चंद्र ग्रहण भी पड़ेंगे। इसके बाद 5 जून, 5 जुलाई और 30 नवंबर को चंद्र ग्रहण पड़ेगा। साल के सबसे आखिरी चंद्र ग्रहण के दौरान चांद पृथ्वी की विरल छाया से गहराई से होकर गुजरेगा।