चक्रवात ‘वायु’ ने बदला रास्ता, समुद्र की तरफ किया रुख, जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर

 चक्रवाती तूफान ‘वायु’ ने रातभर में रास्ता बदल लिया है। बताया जा रहा है कि अब चक्रवात ने समुद्र की ओर रुख कर लिया है। हालांकि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन हाई अलर्ट पर है।

Published by Roshni Khan Published: June 13, 2019 | 9:00 am
Modified: June 13, 2019 | 9:47 am

नई दिल्ली: चक्रवाती तूफान ‘वायु’ ने रातभर में रास्ता बदल लिया है। बताया जा रहा है कि अब चक्रवात ने समुद्र की ओर रुख कर लिया है। हालांकि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन हाई अलर्ट पर है।

‘वायु’ के असर से राज्य के तटीय क्षेत्रों में तूफानी हवाओं के साथ बारिश हो रही है। समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही है। तेज हवाओं के कारण धूल के गुबार उठ रहे हैं। हाईअलर्ट की घोषणा के बीच एनडीआरएफ, सेना सहित विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों ने मोर्चा संभाल लिया है।

चक्रवाती तूफान ‘वायु’ आज गुजरात से टकरा सकता है। वायु के खतरे को देखते हुए एजेंसियां अलर्ट पर हैं। हालांकि, गुरुवार सुबह राहत की खबर ये आई कि वायु का असर पूरे राज्य पर नहीं बल्कि तटीय इलाकों पर ही देखने को मिल सकता है। समुद्री तट पर बसे मछुआरों को किनारे से हटने को कहा गया है, यहां तक कि उनके गांवों में भी पानी भर गया है। किसी भी अनहोनी का सामना करने के लिए NDRF की 52, SDRF की 9, SRP की 14 कंपनियां तैनात हैं। केंद्र सरकार भी राज्य सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है।

खतरा हुआ कम लेकिन अलर्ट पर है प्रशासन…

चक्रवात वायु आज गुजरात में अपना असर दिखा सकता है। लेकिन इसके आने से पहले ही एक राहत वाली खबर आई है। बताया जा रहा है कि अब इसका असर पूरे राज्य पर नहीं बल्कि तटीय इलाकों पर ही पड़ेगा। हालांकि, प्रशासन अभी भी इसे हल्के में नहीं ले रहा है।

प्रशासन ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर…

प्रशासन ने जारी किए हेल्पलाइन नंबरचक्रवाती तूफान वायु के दौरान लोगों की मदद करने के लिए जिला प्रशासन और एनडीआरएफ ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। एनडीआरएफ का हेल्पलाइन नंबर- 91-9711077372 है। इसके अलावा चक्रवात वायु प्रभावित जिलों के हेल्पलाइन इस प्रकार हैं। जामनगर कंट्रोल रूम नंबर: 0288-2553404द्वारका कंट्रोल रूम नंबर: 02833-232125पोरबंदर कंट्रोल रूम नंबर: 0286-2220800दाहोद कंट्रोल रूम नंबर: 02673-239277नवसारी कंट्रोल रूम नंबरः 02637-259401पंचमहल कंट्रोल रूम नंबर: +912672242536छोटा उदयपुर कंट्रोल रूम नंबर: +912669233021कच्छ कंट्रोल रूम नंबर: 02832-250080राजकोट कंट्रोल रूम नंबर: 0281-2471573अरावली कंट्रोल रूम नंबर: +912774250221

कई ट्रेनें रद्द, एयरपोर्ट भी बंद…

कई ट्रेनें रद्द, एयरपोर्ट भी बंदचक्रवात वायु को देखते हुए पश्चिमी रेलवे ने कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है और कई ट्रेनों के रूट बदल दिए हैं। इस चक्रवाती तूफान की वजह से कुल 110 ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। इसके अलावा चक्रवाती तूफान वायु से संभावित नुकसान और यात्रियों को होने वाली परेशानी को देखते हुए पांच एयरपोर्ट पर विमानों का संचालन भी बुधवार रात से गुरुवार आधी रात तक के लिए बंद कर दिया गया है। एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के मुताबिक पोरबंदर, दीव, भावनगर, केशोद और कांडला एयरपोर्ट से विमानों का संचालन बंद कर दिया गया है।

सवा दो लाख लोगों को राहत शिविर पहुंचाया

सवा दो लाख लोगों को राहत शिविर पहुंचायाप्रशासन ने एहतियातन कदम उठाते हुए गुजरात के तटीय इलाकों से लोगों को निकालकर सुरक्षित स्थान पहुंचा दिया। गुजरात के अतिरिक्त मुख्य सचिव (राजस्व) पंकज कुमार के मुताबिक समुद्र तटीय 500 गांवों को खाली करा लिया गया है. 2 लाख 15 हजार लोगों को राहत शिविरों और 10 हजार पर्यटकों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। इसके अलावा अब भी कई लोगों के इलाके में फंसे होने की जानकारी है। वहीं, गुजरात के प्रभावित जिलों के स्कूलों को दो दिन के लिए बंद कर दिया गया है और अधिकारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं।