×

प. बंगाल में TMC विधायक सत्‍यजीत विश्‍वास की हत्या, BJP नेता के खिलाफ FIR दर्ज

पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के विधायक की शनिवार की शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अब जिला तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष गौरीशंकर दत्त ने विधायक की हत्या का सीधा आरोप भाजपा पर लगाया गया है।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 10 Feb 2019 10:29 AM GMT

प. बंगाल में TMC विधायक सत्‍यजीत विश्‍वास की हत्या, BJP नेता के खिलाफ FIR दर्ज
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के विधायक की शनिवार की शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अब जिला तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष गौरीशंकर दत्त ने विधायक की हत्या का सीधा आरोप भाजपा पर लगाया गया है।

उन्होंने कहा कि विधायक के खिलाफ काफी दिनों से साजिश रची जा रही थी। उन्होंने घटना के पीछे भाजपा नेता मुकुल राय का हाथ बताया। साथ ही यह भी कहा कि घटना की जांच पुलिस करेगी, लेकिन मुकुल राय नदिया में घुसेंगे तो उनका हाल क्या होगा, वही जानेंगे।

उधर पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के विधायक सत्यजीत विश्वास की हत्या के मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है और दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। इसके अलावा संथाली पुलिस स्टेशन के प्रभारी अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है।

ये भी पढ़ेंकच्ची शराब कहीं एक साजिश तो नही, पूर्व में भी हो चुका है ऐसा: योगी

बता ता दें कि शनिवार को विश्वास की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। यह घटना सरस्वती पूजा के दिन बांग्लादेश की सीमा से सटे नदिया जिले के माजदिया फूलबाड़ी इलाके में रात करीब 8.30 बजे हुई। सत्यजीत कृष्णगंज से विधायक थे। पश्चिम बंगाल के हालिया राजनीतिक इतिहास में किसी विधायक की हत्या की यह पहली घटना है।

बताया जाता है कि विधायक सत्यजीत विश्वास सरस्वती पूजा के एक कार्यक्रम का उद्घाटन करने पहुंचे थे। मंच से उतरते समय ही एक नकाबपोश अपराधी ने उन्हें नजदीक से गोली मार दी। उस समय मंच पर राज्य की मंत्री रत्ना कर घोष भी उपस्थित थीं।

गोली चलने से वहां अफरातफरी मच गई। लोगों को जब तक कुछ समझ में आता, तब तक हमलावर अपने साथियों के साथ घटनास्थल से फरार हो गया। घटनास्थल से कुछ दूरी पर एक आग्नेयास्त्र पड़ा हुआ मिला है। माना जा रहा है कि भागते समय हमलावर ने उस आग्नेयास्त्र को फेंक दिया होगा। गोली लगने के बाद विधायक को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

ये भी पढ़ेंसामूहिक विवाह कार्यक्रम में भाजपा व अपना दल का खुल कर सामने आया आपसी कलह

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story