ट्रेन से RBI भेज रहा था करोड़ों की रकम, चोरों ने उड़ाए करीब 6 करोड़ रुपए

Published by Published: August 10, 2016 | 12:46 am
Modified: August 10, 2016 | 1:02 am
RBI

पार्सल वैन की काटी गई छत

चैन्नैः तमिलनाडु के सेलम से चेन्नै जा रही ट्रेन से चोरों ने रिजर्व बैंक (आरबीआई) के करीब छह करोड़ रुपए उड़ा दिए। दरअसल, रिजर्व बैंक ट्रेन से करीब 342 करोड़ रुपए भेज रहा था। बीच रास्ते में हाई कैपेसिटी पार्सल कोच की छत को काटकर चोर घुसे और रकम लेकर रफूचक्कर हो गए। हैरत की बात ये है कि रकम की सुरक्षा के लिए 18 अफसर और जवान थे, लेकिन उन्हें चोरी की भनक तक नहीं लगी।

इस तरह हुई चोरी
रिजर्व बैंक ट्रेन के पार्सल कोच से कई प्राइवेट बैंक की रकम भेज रहा था। इसे 11064 सेलम-चेन्नै इग्मोर एक्सप्रेस से भेजा जा रहा था। ट्रेन सेलम से सोमवार रात करीब 9 बजे चली थी और मंगलवार शाम चेन्नै पहुंची थी। चेन्नै पहुंचने के बाद ही चोरी का पता चला। पार्सल वैन की छत को इतना काटा गया था कि एक शख्स उससे आराम से अंदर-बाहर आ जा सकता था। रिजर्व बैंक के अफसरों के सामने कोच खुलने पर चोरी का पता चला।

पुलिस को क्या है शक?
पुलिस को शक है कि रकम की चोरी सेलम और विरधाचलम स्टेशनों के बीच की गई। दोनों के बीच 138 किलोमीटर की दूरी है। इस बीच ऊपर बिजली के हाईटेंशन तार नहीं हैं। इसी वजह से कोई भी बिना खतरे के पार्सल वैन को काटकर उसमें घुस सकता था। चेन्नै जीआरपी के मुताबिक पार्सल वैन में रुपए के चार बॉक्स टूटे थे। इनमें से एक बिल्कुल खाली था, दूसरा आधा खाली था। तीसरे और चौथे कैश बॉक्स की रकम बिखरी हुई थी। ये चोरी नहीं की गई।

सिक्यूरिटी के बीच चोरी
पुलिस के मुताबिक रकम की सुरक्षा के लिए ट्रेन में 3 अफसर और आरपीएफ के 15 जवान तैनात थे। हालांकि इनमें से कोई भी पार्सल वैन में नहीं था। बता दें कि जब भी रिजर्व बैंक रकम भेजता है तो इसकी जिम्मेदारी असिस्टेंट कमिश्नर की होती है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App