×

ट्रक ऑपरेटरों की दो दिनी राष्ट्रव्यापी हड़ताल आज से, 93 लाख ट्रकों का चक्का जाम

aman

amanBy aman

Published on 9 Oct 2017 4:22 AM GMT

ट्रक ऑपरेटरों की दो दिनी राष्ट्रव्यापी हड़ताल आज से, 93 लाख ट्रकों का चक्का जाम
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) और डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ देश भर के ट्रक ऑपरेटरों का दो दिन का चक्का जाम रविवार आधी रात से शुरू हो गया है। ट्रक ऑपरेटरों ने धमकी दी है, कि दो दिन की इस सांकेतिक हड़ताल के बावजूद उनकी मांगें नहीं मानी गईं, तो दिवाली के करीब अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू हो सकती है।

बता दें, कि ट्रक ऑपरेटरों की मांग है कि जीएसटी में उन्हें राहत दी जाए और पुराने ट्रक बेचने पर लगने वाले 28 फीसदी टैक्स के प्रावधान को खत्म किया जाए।

ये भी पढ़ें ...UGC: सरकारी ऑडिट में सलाह, AMU से ‘M’ और BHU से ‘H’ हटा दें

2,000 करोड़ रुपए के नुकसान का अनुमान

ट्रक ऑपरेटरों के दो दिन की इस हड़ताल से करीब 2,000 करोड़ रुपए के राजस्व नुकसान की आशंका जताई जा रही है। ऑल इंडिया मोटर्स ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के उत्तरी भारत के उपाध्यक्ष हरीश सब्बरवाल की मानें, तो '48 घंटे तक देश भर के 93 लाख ट्रकों का चक्का जाम रहेगा। 50 लाख बसों के ऑपरेटर भी हमारी यूनियन के सदस्य हैं, लेकिन फिलहाल उन्हें हड़ताल में शामिल नहीं किया गया है।'

ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल का सीधा नुकसान आम लोगों पर होगा। क्योंकि ट्रकों की हड़ताल से सब्जियों और फलों के दाम दोगुने से चौगुने तक बढ़ जाएंगे। देखा जाए तो पहले से ही सब्जियों और फलों के दाम काफी बढ़े हुए हैं।

ये भी पढ़ें ...‘घर’ में घेरने की कवायद: राहुल आज से गुजरात, तो स्मृति अमेठी दौरे पर

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story