Top

तड़पती रही महिला: प्राइवेट पार्ट में डाला बेलन, सास-ससुर-पति ने काटे अंग

महिला के चरित्र पर शंका होने पर उसके पति, सास, ससुर और अन्य महिला रिश्तेदार ने हैवानियत की भी सारी ही हदें पार कर दी। इन लोगों ने मिलकर महिला का स्तन, जीभ और गाल काट दिया। इतना करने के बाद भी हैवानों की आत्मा को शांति नहीं मिली।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 13 Jan 2021 10:01 AM GMT

तड़पती रही महिला: प्राइवेट पार्ट में डाला बेलन, सास-ससुर-पति ने काटे अंग
X
महिला के चरित्र पर शंका होने पर उसके पति, सास, ससुर और अन्य महिला रिश्तेदार ने हैवानियत की भी सारी ही हदें पार कर दी। इन लोगों ने मिलकर महिला का स्तन, जीभ और गाल काट दिया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उज्जैन। उज्जैन से लगे नागदा जिले से दिल को झकझोर देने वाला मामला सामने आया है। जिले के विद्यागर में एक महिला के चरित्र पर शंका होने पर उसके पति, सास, ससुर और अन्य महिला रिश्तेदार ने हैवानियत की भी सारी ही हदें पार कर दी। इन लोगों ने मिलकर महिला का स्तन, जीभ और गाल काट दिया। इतना करने के बाद भी इन दरिंदों को शांति नहीं मिली, तो उन लोगों ने फिर मुंह और महिला के प्राइवेट पार्ट में बेलन डाल दिया।

ये भी पढ़ें... पत्नी निकली खूंखार कातिल: पति को जिंदा जला दिया, वारदात से मची सनसनी

महिला सड़क पर पड़ी तड़पती रही

ऐसी दरिंदगी जिसे सुनते ही रूह कांप उठे, उसको सहते हुए पीड़ित महिला मौके पर बेहोश हो गई। उसके बाद जब उन्होंने हैवानों को ये लगा कि महिला मर गई है तो उन्होंने उसे घर से बाहर फेंके दिया। इसके बाद सब के सब वहां से फरार हो गए। ऐसे में इस घटना की सबसे हैरान और दर्दनाक बात तो ये है कि आस पड़ोस के लोगों को सब पता था, लेकिन इसके बाद भी किसी ने महिला को बचाने के लिए कुछ नहीं किया।

पीड़ित महिला के हैवान परिवार वालों के फरार होने के बाद 10 मिनट तक महिला सड़क पर पड़ी तड़पती रही और मदद की गुहार लगाती रही। लेकिन किसी को उस पर तरस दया नहीं आई।

आखिर में फिर किसी ने पुलिस को घटना की जानकारी दी, जिसके बाद उसे पहले स्थानीय अस्पताल और फिर वहां से इंदौर के लिए रैफर कर दिया गया है। जहां महिला की हालत नाजुक बनी हुई है। फिलहाल बिरलाग्राम थाना पुलिस ने पति, सास-ससुर और महिला रिश्तेदार के खिलाफ प्राणघातक हमले का प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

बताया जा रहा कि ये घटना मंगलवार 12 जनवरी की है। इस दिन सुबह विद्यानगर की मुख्य सड़क के पास बने एक मकान से एक महिला के चीखने-चिल्लाने की काफी आवाजें आ रही थीं। इसके बाद परिवार के सदस्य उसे पीटते हुए बाहर लेकर आए। खून से सराबोर महिला को मरा हुआ समझकर उसे घर के बाहर फेंककर वे सभी फरार हो गए।

crime scene फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...फिर सामने आई गैंगरेप की बड़ी वारदात, एक महीने तक बनाए रखा था बंधक

महिला अपने रिश्तेदार के साथ कहीं गई थी

वारदात के बारे मेंं मंडी थाना पुलिस के अनुसार, महिला को पहले जनसेवा अस्पताल पहुंचाया गया था, जहां से उसे उज्जैन भेजा गया। स्थिति गंभीर होने पर महिला को इंदौर रैफर किया गया। पुलिस ने तीन अलग-अलग टीमें बनाकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

बता दें, महिला की शादी 15 साल पहले राजेश के साथ हुई थी। इनके दो बच्चे हैं। एक की उम्र 14 तो दूसरे की उम्र पांच साल है। दो बच्चों का बाप राजेश पेशे से ट्रक ड्राइवर है और ज्यादातर समय घर से बाहर ही रहता है। इस घटना के कुछ दिनों पहले महिला अपने रिश्तेदार के साथ कहीं गई थी। और सोमवार 11 जनवरी को राजेश उसे वापस लेकर आया था।

ऐसे में पुलिस को शक है कि राजेश काफी समय से अपनी पत्नी को मारने की योजना बना रहा था। तभी कुछ दिनों पहले ही राजेश एक तलवार लेकर आया था। और इस घटना को अंजाम देने में उसने तलवार का ही उपयोग किया था। वहीं घर के अंदर पुलिस को महिला का खून और कटे हुए अंग भी मिले हैं।

ये भी पढ़ें...फिर सामने आई गैंगरेप की बड़ी वारदात, एक महीने तक बनाए रखा था बंधक

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story