×

उन्नाव रेप केस: SC ने पीड़िता के चाचा को तत्काल तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने का दिया आदेश

सुप्रीम कोर्ट लगातार इस मामले में पैनी नजर बनाए हुए है। पीड़िता की तबीयत कैसी है, इसके जानकारी भी लगातार कोर्ट को दी जा रही है। कोर्ट को जानकारी दी गयी है कि लखनऊ के अस्पताल में पीड़िता अभी भर्ती है, जहां उसका इलाज ICU में चल रहा है। हालांकि, अब वह क्रिटिकल नहीं है।

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 2 Aug 2019 7:17 AM GMT

उन्नाव रेप केस: SC ने पीड़िता के चाचा को तत्काल तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने का दिया आदेश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने उन्नाव रेप केस में एक बड़ा फैसला सुनाया है। शुक्रवार को कोर्ट ने पीड़िता के चाचा को दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने का आदेश दिया है। वह अभी रायबरेली जेल में बंद हैं। बता दें, कोर्ट ने सुरक्षा कारणों की वजह से ये कदम उठाया है।

यह भी पढ़ें: विदेश मंत्री जयशंकर ने माइक पोम्पियो से की मुलाक़ात, कश्मीर मुद्दे पर दिया ये बयान

हालांकि, पीड़िता का इलाज लखनऊ में ही होगा क्योंकि उसकी मां ऐसा चाहती हैं। मालूम हो, पहले पीड़िता को इलाज के लिए दिल्ली शिफ्ट किया जा रहा था लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता और उसके परिजनों की सुरक्षा में CRPF के जवानों को तैनात किया है।

यह भी पढ़ें: उन्नाव रेप: कुलदीप सिंह सेंगर के आगे आज भी बेबस और लाचार है प्रशासन, जानें क्यों

सुप्रीम कोर्ट लगातार इस मामले में पैनी नजर बनाए हुए है। पीड़िता की तबीयत कैसी है, इसके जानकारी भी लगातार कोर्ट को दी जा रही है। कोर्ट को जानकारी दी गयी है कि लखनऊ के अस्पताल में पीड़िता अभी भर्ती है, जहां उसका इलाज ICU में चल रहा है। हालांकि, अब वह क्रिटिकल नहीं है।

सीबीआई के हाथ लगी नई बात

इस मामले में सीबीआई को एक नई बात पता चली है। गुरुवार को इस मामले में सीबीआई ने अहम स्थानों का निरिक्षण किया। इसी सिलसिले में सीबीआई ने लालगंज टोल प्लाजा पर घटना वाले दिन का सीसीटीवी फुटेज को खंगाला, जिसमें यह ट्रक टोल प्लाजा को टोल देने के बाद रायबरेली की ओर जाता दिख रहा है।

यह भी पढ़ें: उन्नाव रेप केस: आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर के हथियारों के लाइसेंस होंगे रद्द

इसके साथ ही टोल प्लाजा की रसीद भी मिलायी गई जिसमे ट्रक का विवरण मौजूद है, जिसमें 8300 नंबर पड़ा है। इसके साथ ही टोल प्लाजा की रसीद भी मिलायी गई जिसमें ट्रक का विवरण मौजूद है। इसमें 8300 नंबर पड़ा है। फिलहाल, सीबीआई इस मामले से जुड़े हर पहलू का बारीकी से जांच कर रही है।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story