RBI गवर्नर पर सस्पेंस खत्म, उर्जित पटेल होंगे रघुराम राजन के उत्तराधिकारी

नई दिल्ली : आखिरकार आरबीआई को उर्जित पटेल के रूप में नया गवर्नर मिल गया है। वो रघुराम राजन की जगह लेंगे। उर्जित पटेल सितंबर के पहले हफ्ते में अपनी नई जिम्मेदारी संभालेंगे। गौरतलब है कि उर्जित अभी आरबीआई में डिप्टी गवर्नर और मौद्रिक नीति प्रभारी हैं। उन्हें वर्तमान गवर्नर रघुराम राजन का करीबी माना है। इसके पहले बीते कुछ महीनों से विभिन्न नामों पर चर्चा जारी थी, जिस पर आज विराम लग गया।

आईएमएफ में कर चुके हैं काम 
उल्लेखनीय है कि उर्जित पटेल, रघुराम राजन के आरबीआई में आने से पहले ही यहां से जुड़ चुके थे। राजन और उर्जित में एक समानता है कि दोनों ही वाशिंगटन में आईएमएफ में साथ काम कर चुके हैं।

ये भी पढ़ें …PM मोदी का चर्चित सूट गिनीज बुक में शामिल, सबसे महंगे परिधान की मिली मान्यता

कौन हैं उर्जित पटेल ?
-उर्जित (52 साल) ने येल यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में पीएचडी और ऑक्सफोर्ड से एमफिल की पढ़ाई पूरी की।
-जापानी कंपनी नोमुरा उर्जित को सूक्ष्म नजर रखने वाला अर्थशास्त्री मानती है।
-इससे पहले पटेल बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप और रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ काम भी कर चुके हैं।
-उर्जित भारतीय मुद्रास्फीति लक्ष्य और रेट सेटिंग पैनल के एक प्रमुख वास्तुकार माने जाते हैं।

ये भी पढ़ें …गृहमंत्री ने कहा-कश्मीर में खून की एक बूंद भी गिरती है तो नींद नहीं आती

ये भी थे पद के दावेदार 
सूत्रों की मानें तो गर्वनर पद की दावेदारी के लिए अंतिम चार नाम तय किए गए थे। इनमें आरबीआई के डिप्टी गवर्नर के रूप में अपना दूसरा कार्यकाल निभा रहे उर्जित पटेल, क्रिसिल के मुख्य अर्थशास्त्री सुबीर गोकर्ण, रिजर्व बैंक के पूर्व डिप्टी गवर्नर राकेश मोहन और भारतीय स्टेट बैंक की अध्यक्ष अरुंधति भट्टाचार्य का नाम शामिल था। अंततः सरकार ने उर्जित पटेल के नाम पर मुहर लगाई।

ये भी पढ़ें …GOOD NEWS : अब SBI की शाखाओं से आप ले सकेंगे रेलवे टिकट