अयोध्या फैसले पर VHP ने कहा- मंदिर निर्माण के लिए 60 फीसद खंभे तैयार

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि हिंदुओं के लिहाज से आज का दिन बहुत अच्छा रहा, कोर्ट के इस फैसले ने 200 साल के लंबे इंतजार को खत्म किया है।

नई दिल्ली: अयोध्या राम मंदिर बाबरी मस्जिद विवाद मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को ऐतिहासिक फैसला दिया है।

कोर्ट ने विवादित भूमि का मालिकाना हक राम जन्मभूमि न्यास को दिया है, वहीं मुस्लिमों को मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में किसी और जगह 5 एकड़ वैकल्पिक जमीन दी जाएगी।

इसके साथ ही कोर्ट ने केंद्र सरकार को 3 महीने में ट्रस्ट बनाने को कहा है, कोर्ट ने निर्मोही अखाड़ा और वक्फ बोर्ड की याचिका खारिज कर दी है।

कोर्ट के द्वारा दिये गये फैसले से बाद तमाम नेताओं, राजनीति जगत एवं सभी समुदाय के धर्मगुरूओं के बयान सामने आ रहे है। इसी बीच विश्व हिन्दू परिषद(VHP) ने प्रेस कांफ्रेंस करते हुए मीडिया से बातचीत किया।

खत्म हुआ 200 साल का इंतजार…

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि हिंदुओं के लिहाज से आज का दिन बहुत अच्छा रहा, कोर्ट के इस फैसले ने 200 साल के लंबे इंतजार को खत्म किया है। और दुनियाभर में फैले हिंदुओं के लिए यह बहुत शानदार रहा।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हिंदू शांति से रहने वाले लोग हैं और वो किसी तरह का संघर्ष नहीं करना चाहते हैं, हमें उन लोगों को याद करना चाहिए जिन्होंने बलिदान दिया।

विश्‍व हिंदू परिषद ने कहा, सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर के निर्माण के लिए निर्णायक फैसला दिया है। विहिप के नेता आलोक कुमार ने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए 60 फीसद खंभे और बीम बिल्‍कुल तैयार हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमें उम्‍मीद है कि भारत सरकार सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुपालन के लिए तेजी से कदम उठाएगी।