×

ये क्या हुआ मोदीजी! अहमदाबाद में मेहमाननवाजी, दिल्ली में गोलीबारी

जाफराबाद में सीएए पर एकाएक हुए हिंसक प्रदर्शन को लेकर केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ गई  हैं। रात को अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप आगरा से दिल्ली आ रहे हैं, इसके चलते सुरक्षा एजेंसियों ने अपने प्लान में कई तरह के बदलाव किए हैं।

suman

sumanBy suman

Published on 24 Feb 2020 3:03 PM GMT

ये क्या हुआ मोदीजी! अहमदाबाद में मेहमाननवाजी, दिल्ली में गोलीबारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: जाफराबाद में सीएए पर एकाएक हुए हिंसक प्रदर्शन को लेकर केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों की नींद उड़ गई हैं। रात को अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप आगरा से दिल्ली आ रहे हैं, इसके चलते सुरक्षा एजेंसियों ने अपने प्लान में कई तरह के बदलाव किए हैं।

पहले लुटियन जोन के कई इलाकों को सील नहीं किया जाना था, लेकिन अब सीएए के विरोध प्रदर्शन की आग जिस तरह से भड़की है, उसे देखते हुए हैदराबाद हाउस, इंडिया गेट, नॉर्थ ब्लॉक-साउथ ब्लॉक, रेल भवन, उद्योग भवन, नॉर्थ अवेन्यू और साउथ एवेन्यू के आसपास के इलाके में चच्चे चप्पे पर सुरक्षा बलों की तैनाती की जा रही है।

यह पढ़ें... ट्रंप के सम्मान में राष्ट्रपति के रात्रिभोज से पूर्व PM डॉक्टर मनमोहन सिंह का किनारा, नहीं जाएंगे

दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, जहां पर भी ट्रंप की यात्रा का रूट लगेगा, वहां से तीन किलोमीटर दूरी तक का इलाका संवेदनशील घोषित कर दिया जाएगा। हालांकि वहां धारा 144 जैसे हालात नहीं होंगे, लेकिन केंद्रीय सुरक्षा बलों के जवान मौजूद रहेंगे। नए सिक्योरिटी प्लान के तहत मंगलवार को जब राष्ट्रपति ट्रंप नई दिल्ली में होंगे तो उस दौरान मेट्रो स्टेशनों को लेकर भी कोई एडवायजरी जारी की जा सकती है।

खबरों के अनुसार, जाफराबाद में चल रहा प्रदर्शन हिंसक हो जाएगा। करीब दो बटालियन को वहां पर तैनात किया गया था। सोमवार को जब अमेरिकी राष्ट्रपति आगरा के रास्ते में थे, तो उस वक्त जाफराबाद में एकाएक पथराव एवं गोलीबारी की घटना हो गई।

यह पढ़ें... आंध्रप्रदेश के सीएम ने छात्रों के हित में उठाया ऐसा कदम, हर तरफ हो रही चर्चा

खबरों का कहना है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस घटना पर तुरंत संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस आयुक्त को निर्देश दिया है कि वे किसी भी तरह इस मामले को शांत करें। इसके बाद मंत्रालय में एक उच्चस्तरीय बैठक भी हुई। इसमें दिल्ली पुलिस और आईबी के अलावा दूसरी केंद्रीय एजेंसियों के अधिकारी शामिल रहे।

बताया जा रहा है कि ट्रंप के जितने भी अधिकारिक कार्यक्रम हैं, वहां पर अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की जाएगी। पहले ट्रंप के रूट वाली सड़क को छोड़कर बाकी के मार्ग को हल्के वाहनों के लिए खुला छोड़ा गया था।

अब करीब दो तीन किलोमीटर के क्षेत्र में सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए हैं। आरएएफ की कई कंपनियां को मेट्रो स्टेशनों के आसपास लगाया गया है। ट्रंप की यात्रा के दौरान जब कुछ समय के लिए सड़क मार्ग को पूरी तरह बंद करने के अलावा निकटवर्ती मेट्रो स्टेशनों पर ट्रेनों के शेड्यूल में भी बदलाव हो सकता है।

suman

suman

Next Story