×

बिप्लब मिले माणिक सरकार से, कार्यकर्ताओं को हिंसा में शामिल न होने की हिदायत

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 4 March 2018 12:20 PM GMT

बिप्लब मिले माणिक सरकार से, कार्यकर्ताओं को हिंसा में शामिल न होने की हिदायत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अगरतला : त्रिपुरा प्रदेश भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष बिप्लब कुमार देब ने रविवार को निवर्तमान मुख्यमंत्री माणिक सरकार से मुलाकात की और उनका आशीर्वाद लिया। देब को पूर्वोत्तर राज्य में पार्टी का मुख्यमंत्री बनाए जाने की संभावना है। 48 वर्षीय देब ने मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के त्रिपुरा राज्य मुख्यालय में जाकर 69 वर्षीय वाम नेता से मुलाकात की। कार्यालय जाकर भाजपा नेता ने मत्स्य पालन एवं सहकारी विभाग मंत्री खगेंद्र जमातिया को अपनी श्रद्धांजलि दी। ब्लड कैंसर से जूझ रहे जमातिया का नई दिल्ली स्थित एम्स में शुक्रवार को निधन हो गया था।

ये भी देखें :त्रिपुरा में बीजेपी अध्यक्ष विप्लव कुमार देव होंगे मुख्यमंत्री : सूत्र

देब ने संवाददाताओं को बताया, "मैं अभी भाजपा विधायक दल का नेता नहीं चुना गया हूं। फिर भी मैंने माणिक दा से मुलाकात कर उनका आशीर्वाद लिया है। वह मुझसे बहुत वरिष्ठ हैं और काफी अनुभवी व्यक्ति हैं।"

देब ने बनमालीपुर विधानसभा सीट पर माकपा उम्मीदवार और पार्टी के युवा नेता अमाल चक्रवर्ती को 9,549 मतों के भारी अंतर से हराकर अपना पहला चुनाव जीता है। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा को एक भी सीट नहीं मिली थी।

भाजपा के त्रिपुरा प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं से राज्य में शांति बनाए रखने की अपील की है और चुनाव के बाद हिंसा में शामिल न होने की हिदायत दी है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story