×

लखीमपुर में बोले अमित शाह, असम को नहीं बनने देंगे कश्मीर

अमित शाह ने कहा कि पाकिस्तान द्वारा की गई कायरता पूर्ण हमला जिसमें सीआरपीएफ जवान शहीद हुए हैं, वो बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। अमित शाह ने पुलवामा हमले में शहीद हुए असम के जवान मानेश्वर को याद किया।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 17 Feb 2019 11:00 AM GMT

लखीमपुर में बोले अमित शाह, असम को नहीं बनने देंगे कश्मीर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखीमपुर: असम के दौरे पर पहुंचे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी असम को कश्मीर नहीं बनने देगी। अमित शाह ने असम के लखीमपुर में रैली को संबोधित किया। बीजेपी अध्यक्ष ने पुलवामा हमले का जिक्र किया और कहा कि वे और उनकी पार्टी पुलवामा के शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करती है।

अमित शाह ने कहा कि पाकिस्तान द्वारा की गई कायरता पूर्ण हमला जिसमें सीआरपीएफ जवान शहीद हुए हैं, वो बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। अमित शाह ने पुलवामा हमले में शहीद हुए असम के जवान मानेश्वर को याद किया। इसके साथ ही कहा कि देश और असम उनके बलिदान को भुला नहीं पाएगा।

यह भी पढ़ें.....पत्रकार के घर तोड़फोड़ का मामला, SP ने महिला दारोगा को किया लाइन हाजिर

अमित शाह ने कांग्रेस पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि इस बार इनकी कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी, क्योंकि इस बार केंद्र में कांग्रेस की सरकार नहीं है बल्कि आपकी बनाई सरकार है। अमित शाह ने कहा कि अगर कोई सोच रहा है कि हमारे जवानों पर हमलाकर हमें कमजोर कर पाएगा तो ये उसकी भूल है।

यह भी पढ़ें.....हिन्दू जागरण मंच ने पुलवामा हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों के लिए लखनऊ में किया प्रदर्शन

अमित शाह ने अपनी सभा में कहा कि 1985 में असम समझौता हुआ। इसके बाद 10 साल तक असम गण परिषद (एजीपी) की सरकार रही, 25 साल कांग्रेस ने राज किया। 20 साल केन्द्र में कांग्रेस रही, लेकिन असम समझौते का क्या हुआ। अमित शाह ने कांग्रेस और एजीपी से कहा कि असम के युवा उनसे इस बाबत सवाल पूछ रहे हैं।

यह भी पढ़ें.....दिल्ली: फायर सेफ्टी का उल्लंघन करने के चलते 57 होटलों पर लगा ताला

अमित शाह ने कहा कि इतने साल शासन करने के बावजूद ये पार्टियां राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) लेकर नहीं आईं। अमित शाह ने कहा कि इन पार्टियों ने असम में न तो घुसपैठ रोका और ना ही एनआरसी लेकर आईं।

यह भी पढ़ें.....‘फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी’ गाना बजाने पर पाकिस्तान ने रद्द की स्कूल की मान्यता

युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि अमित शाह ने कहा कि बीजेपी की सरकार बनते ही हम एनआरसी लेकर आए और घुसपैठ को रोकने का काम किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी असम को कश्मीर नहीं बनने देगी। अमित शाह ने कहा कि चाहे पूर्वोत्तर हो या फिर जम्मू-कश्मीर बीजेपी सरकार ने आतंक का समूल नाश करने का प्रण लिया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story