×

यासीन मलिक की टूटी उम्मीदें: पाकिस्तान से पत्नी लड़ रही थी जंग, तो भारत से बहन पढ़ रही थी दुआ

Yasin Malik News: यासीन मलिक को सजा सुनाए जाने के बाद उनकी पत्नी मुशाल हुसैन मलिक ने एक के बाद एक ट्वीट में मोदी सरकार पर जमकर भड़ास निकली।

Krishna Chaudhary
Updated on: 25 May 2022 5:33 PM GMT
यासीन मलिक की टूटी उम्मीदेः पाकिस्तान से पत्नी लड़ रही थी जंग, तो भारत से बहन पढ़ रही थी दुआ
X

(फोटो साभार- ट्विटर)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Yasin Malik News: जम्मू कश्मीर के अलगाववादी नेता यासीन मलिक (Yasin Malik) आज दिनभर मीडिया में छाए रहे, सोशल मीडिया पर भी उन्हें लेकर काफी शोर था। सजा के ऐलान से पहले ही पाकिस्तान (Pakistan) में रह रहीं उनकी पत्नी मुशाल हुसैन मलिक Mushaal Hussein Mullick) ने सोशल मीडिया पर उनकी रिहाई के लिए कैंपेन छेड़ दिया था। एक के बाद एक सिलसिलेवार ट्वीट में यासीन मलिक की पत्नी मोदी सरकार (Modi Government) पर हमला बोलने के साथ-साथ पाकिस्तानी नेताओं और संयुक्त राष्ट से मदद की गुहार लगा रही हैं। वहीं दूसरी तरफ भारत में रह रहीं यासीन मलिक की बहन (Yasin Malik Sister) सजा सुनाए जाने से पहले कुरान पढ़ती नजर आईँ।

मोदी सरकार पर भड़कीं यासीन मलिक की पत्नी मुशाल

पाकिस्तान की रहने वाली यासीन मलिक की पत्नी मुशाल हुसैन मलिक ने एक के बाद एक ट्वीट में मोदी सरकार पर जमकर भड़ास निकली। यासीन की पत्नी ने अपने ट्वीट में कहा बीजेपी सरकार उनके पति को सजा देकर हिंदुत्व की राजनीति के जरिए अपना वोटबैंक बढ़ाना चाहती है। उन्होंने मोदी सरकार को फासीवादी बताते हुए कहा कि वो कश्मीर की जनता को नेतविहीन करना चाहती है।

मुशाल ने अपने एक अन्य ट्वीट में लिखा, भारत सरकार को डर है कि कश्मीर से उसकी सत्ता समाप्त हो जाएगी। इसी डर से वहां की सरकार ऐसा कठोर कदम उठा रही है जिसका कोई कानूनी आधार नहीं है।

सत्ता के साथ ये निराशाजनक कुठराघात जल्द समाप्त हो जाएगा और कश्मीर आजाद हो जाएगा। मुशाल ने ट्वीटर पर आगे लिखा, मोदी सरकार चाहे जितनी भी कोशिश कर ले, मगर हम उसकी बर्बरता के खिलाफ आखिरी सांस तक लड़ेंगे। अपने संदेश में वो लिखती हैं, 'आजादी हमारा हक है, अगर आप ये हक हमें देने से इनकार करते हैं तो हम आपसे अपनी आजादी छीनकर लेंगे। इस दौरान मशाल अपने हर ट्वीटस में #ReleaseYasinMalik का इस्तेमाल कर रही हैं और लोगों से उनके पति की रिहाई में मदद की अपील कर रही हैं।

यूएन से मदद की अपील की

मुशाल मलिक ट्वीटर पर संयुक्त राष्ट्र और अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन से मदद की अपील भी करती दिखीं। उन्होंने इन संस्थाओं से यासीन मलिक को रिहा कराने के लिए हस्तेक्षप करने की मांग की। वो अपने ट्वीट में लिखती हैं, मैं मांग करती हूं कि संयुक्त राष्ट्र और अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन जेकेएलएफ के चीफ यासीन मलिक को मनगंढ़त और काल्पनिक मामलों में सजा सुनाए जाने से फासीवादी मोदी सरकार को रोके।

कौन हैं मुशाल मलिक

मुशाल मलिक और यासीन मलिक के बीच पहली मुलाकात साल 2005 में हुई थी। फरवरी 2009 में मुशाल ने अपने से 20 साल बड़े यासीन के साथ निकाह कर लिया। दोनों की एक बेटी भी है, उसका नाम रजिया सुल्तान है। मुशाल हुसैन कराची के एक संपन्न परिवार से आती हैं। उनके पिता जाने माने अर्थशास्त्री हैं। वहीं मुशाल की मां रेहाना पाकिस्तानी मुस्लिम लीग की नेता रही हैं। भाई अमेरिका में विदेश नीति विश्लेषक है। पेशे से चित्रकार मशाल के बारे में कहा जाता है कि उन्होंने 6 साल की उम्र में ही पेंटिंग शुरू कर दी थी। पाकिस्तान में वह सेमी न्यूड पेंटिंग बनाने के लिए प्रसिद्ध हैं।

भाई के लिए बहन ने पढ़ी कुरान

श्रीनगर के मैसूमा स्थित अलगाववादी नेता यासीन मलिक के घर के बाहर काफी गहमागहमी थी। सजा सुनाए जाने को लेकर यासीन समर्थक बड़ी संख्या में उनके घर के बाहर जमा होकर नारेबाजी कर रहे थे। इस दौरान उनकी बहन घर के खिड़की के पास आईं और हाथ में कुरान रखकर पढ़न लगीं। कश्मीरी पत्रकार आकाश हसन ने इसे जुड़ा एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, यासीन मलिक की बहन दिल्ली की एक अदालत से उनकी सजा से पहले अपने मैसूमा, श्रीनगर स्थित घर पर कुरान पढ़ रही हैं। बता दें यासीन मलिक के घर के बाहर सुरक्षा काफी कड़ी कर दी गई है। बड़ी संख्या में सुरक्षाबल वहां और आसपास के इलाके में तैनात किए गए हैं।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story