लॉकडाउन के उल्लंघन में फंसे पूर्व सीएम, भव्य स्वागत के बाद उठी यह मांग

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने यह मुद्दा उठाते हुए आरोप लगाया कि चंद्रबाबू नायडू ने राज्य में लॉकडाउन का खुला उल्लंघन किया है। रेड्डी ने कहा कि वे सड़क मार्ग से तेलंगाना से अमरावती पहुंचे और जगह-जगह उनके स्वागत के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन नहीं किया गया।

अशुमान तिवारी

हैदराबाद। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और तेलुगू देशम पार्टी के मुखिया चंद्रबाबू नायडू लॉकडाउन उल्लंघन के मामले में फंस गए हैं। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान हैदराबाद से अमरावती तक की यात्रा सड़क मार्ग से तय की और इस दौरान कई स्थानों पर नायडू के समर्थकों ने उनका जोरदार स्वागत किया। अब इस मामले को लेकर राज्य का सियासी माहौल गरमा गया है और आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ दल ने नायडू से क्वारंटीन होने की मांग की है।

आंध्र के सीएम ने लगाया यह आरोप

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने यह मुद्दा उठाते हुए आरोप लगाया कि चंद्रबाबू नायडू ने राज्य में लॉकडाउन का खुला उल्लंघन किया है। रेड्डी ने कहा कि वे सड़क मार्ग से तेलंगाना से अमरावती पहुंचे और जगह-जगह उनके स्वागत के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन नहीं किया गया। लॉकडाउन के दौरान समर्थकों की इस तरह भीड़ इकट्ठी करना उचित नहीं है और लॉकडाउन का खुला उल्लंघन है।

सैकड़ों लोगों ने किया स्वागत

आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ वाईएसआरसीपी के नेता गाडिकोटा श्रीकांत ने चंद्रबाबू नायडू पर निशाना साधते हुए कहा कि पूरा देश इस समय 31 मई तक घोषित लॉकडाउन का पालन कर रहा है। देश के सभी लोग सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रख रहे हैं। लॉकडाउन के दौरान चंद्रबाबू नायडू ने हैदराबाद में रैली निकाली जिसमें सैकड़ों लोग इकट्ठा हुए। श्रीकांत ने आरोप लगाया कि इस दौरान टीडीपी के कार्यकर्ताओं ने मास्क तक नहीं लगाया था।। श्रीकांत ने सवाल खड़ा करते हुए कहा कि नायडू जैसे वरिष्ठ नेता ऐसा काम कैसे कर सकते हैं? उन्हें लॉकडाउन का उल्लंघन करने के लिए लोगों से माफी मांगनी चाहिए।

ये भी पढ़ेंःयूपी पुलिस में बड़ा फेरबदल: 10 IPS अफसरों के तबादले, प्रशांत कुमार को मिला प्रमोशन

रेड्डी ने कहा-क्वारंटीन हों नायडू

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि एक रेड जोन से आने की वजह से चंद्रबाबू नायडू को क्वारंटीन होना चाहिए, लेकिन वह राजनीति करने की कोशिश में जुटे हुए हैं। रेड्डी ने कहा कि वे लंबे चौड़े काफिले के साथ निकले और उन्होंने कई राज्यों की सीमाएं पार कीं। ऐसे में उन्हें क्वारंटीन में होना चाहिए।

हैदराबाद में फंसे हुए थे नायडू

दरअसल चंद्रबाबू नायडू गत 22 मार्च को किसी काम के सिलसिले में हैदराबाद गए थे, लेकिन 24 मार्च को राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन घोषित हो जाने के कारण वे हैदराबाद में ही फंस गए थे। अब लंबे समय बाद वे हैदराबाद से अमरावती लौटे हैं और इस दौरान रास्ते में कई जगह समर्थकों की ओर से उनका जोरदार स्वागत किया गया। इसे लेकर राज्य का सियासी माहौल गरमा गया है और उन पर लॉकडाउन के उल्लंघन का आरोप लगा है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।