Top

जमशेदपुर में नाबालिग से हैवानियत, स्कूल के शौचालय में गैंगरेप, चार गिरफ्तार

लौहनगरी जमशेदपुर में नाबालिग लड़की को हवस का शिकार बनाया गया है। सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी युवक पीड़ित के परिचित हैं। कपड़ा दुकान में काम करने वाली पीड़िता जब रात के 8 बजे अपने घर लौट रही थी तभी उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया है।

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 2 Feb 2021 4:57 PM GMT

जमशेदपुर में नाबालिग से हैवानियत, स्कूल के शौचालय में गैंगरेप, चार गिरफ्तार
X
सीतापुर में गैंगरेपः महिला के प्राइवेट पार्ट में लगाई आग, हैवानियत जान दहल गए सभी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रांची: लौहनगरी जमशेदपुर में नाबालिग लड़की को हवस का शिकार बनाया गया है। सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी युवक पीड़ित के परिचित हैं। कपड़ा दुकान में काम करने वाली पीड़िता जब रात के 8 बजे अपने घर लौट रही थी तभी उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया है। पीड़ित लड़की के पिता के बयान के आधार पर परसुडीह थाना में मामला दर्ज कर लिया गया है। सभी चार आरोपियों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया गया है। मामला सामने आने के बाद इलाके में चर्चा का बाज़ार गर्म है।

ये भी पढ़ें: भाकियू नेता नरेश टिकैत ने कृषि कानून पर सरकार को शक्ति प्रदर्शन के लिए ललकारा

स्कूल के शौचालय में दुष्कर्म

पुलिस अधीक्षक एम. तमिल वानन की मानें तो पीड़ित लड़की गश्ती टीम को लावारिस हालत में मिली। काफी पूछताछ के बाद पता चला कि, युवती कपड़ा दुकान से काम कर लौट रही थी तभी उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया गया है। पुलिस की मानें तो आरोपी युवकों ने परसुडीह स्थित एक स्कूल के शौचालय में घटना को अंजाम दिया है। वारदात शाम के क़रीब 8 बजे की है।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/02/WhatsApp-Video-2021-02-02-at-21.47.12.mp4"][/video]

पुलिस की लेटलतीफी

नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप की वारदात रविवार को हुई है लेकिन प्राथमिकी मंगलवार को दर्ज की गई है। इस बाबत जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक एम. तमिलवानन ने बताया कि, लड़की के बार-बार बयान बदलने की वजह से जांच में देरी हुई। शक के आधार पर कई युवकों को हिरासत में लिया गया लेकिन अंत में चार आरोपियों की संलिप्तता का पता चला। हालांकि, स्थानीय लोगों का आरोप है कि, पुलिस के सामने मामला आ जाने के बाद भी प्राथमिकी दर्ज करने में लेटलतीफी हुई है।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2021/02/WhatsApp-Video-2021-02-02-at-21.47.44.mp4"][/video]

ये भी पढ़ें: देश भर में NRC लागू करने पर विचार नहीं, सरकार ने राज्यसभा में दी जानकारी

स्थानीय लोगों में ग़ुस्सा

स्थानीय लोगों का आरोप है कि, पुलिस ने मामले को लेकर तत्परता नहीं दिखाई। रविवार को घटी घटना के मामले में मंगलवार को प्राथमिकी दर्ज की गई है। हालांकि, पुलिस का कहना है कि, पीड़ित के बार-बार बयान बदलने के कारण अनुसंधान में देरी हुई है। हालांकि, वारदात में शामिल चार आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली गई है।

रिपोर्ट: शाहनवाज़

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story