Top

रांची: पूर्व मंत्री का बड़ा बयान, केंद्र सरकार का दिल और मन है काला

पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश नारायण यादव ने कहा है कि, कृषि कानूनों को लेकर केंद्र की मोदी सरकार तानाशाह रवैया अपनाए हुए है। केंद्र सरकार का दिल और मन काला है। यही वजह है कि, कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जा रहा है।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 7 Feb 2021 5:41 PM GMT

रांची: पूर्व मंत्री का बड़ा बयान, केंद्र सरकार का दिल और मन है काला
X
रांची: पूर्व केंद्रीय मंत्री ने दिया बयान, केंद्र सरकार का दिल और मन है काला
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

रांची: पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश नारायण यादव ने कहा है कि, कृषि कानूनों को लेकर केंद्र की मोदी सरकार तानाशाह रवैया अपनाए हुए है। केंद्र सरकार का दिल और मन काला है। यही वजह है कि, कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जा रहा है। रांची में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होने कहा कि, अडानी और अंबानी के लिए आत्मनिर्भर भारत बनाया जा रहा है। केंद्र सरकार उद्योगपतियों के लिए काम कर रही है। लिहाज़ा राजद परिवार मज़बूती के साथ किसानों के साथ खड़ी है। उन्होने कहा कि, बिहार में तेजस्वी यादव के नेतृत्व में विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है।

बिहार में काला शासन

झारखंड राजद के प्रदेश प्रभारी जयप्रकाश नारायण यादव ने कहा है कि, बिहार में आज सुशासन की जगह काला शासन है। उन्होने कहा कि, बच्चे स्कूल जाने से घबराने लगे हैं। लड़कियां बाहर निकलने से डरने लगी हैं। बिहार में शराब माफियाओं, बालू माफियाओं और अपराधियों की चांदी है। राजद शुरू से संपूर्ण शराबबंदी के पक्ष में रही है लेकिन आज शराब की होम डिलीवरी हो रही है। नीतिश कुमार की सरकार ने बिहार में लोकतांत्रिक मूल्यों को समाप्त कर रही है। आंदोलन करने पर जेल में डाल दिया जाता है। नौकरी मांगने पर सलाखों के पीछे भेज दिया जाता है। बिहार में कानून-व्यवस्था की स्थिति बद से बदतर हो गई है।

जयप्रकाश नारायण यादव

ये भी पढ़ें : रेलवे बोर्ड मेम्बर पहुंचे झांसी स्टेशन, तीसरी लाइन की प्रगति का लिया जायजा

ग़रीब विरोधी है बजट

पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश नारायण यादव ने केंद्रीय बजट को ग़रीब विरोधी क़रार दिया है। रांची में मीडिया से बात करते हुए उन्होने कहा कि, बजट शिक्षा और स्वास्थ्य विरोधी है। उन्होने बजट को किसान विरोधी और जन विरोधी बताया। जय प्रकाश नारायण यादव ने कहा कि, मेक इन इंडिया की तर्ज़ पर इस बार भी बजट के माध्यम से जनता को ठगने की कोशिश की गई है।

ये भी पढ़ें : अपराध पर लगामः शाहजहांपुर में क्राइम मीटिंग, SP ने दिए दिशा-निर्देश

राजद कार्यकारिणी की बैठक

झारखंड प्रदेश राजद कार्यकारिणी की बैठक में कुल 21 प्रस्तावों पर चर्चा हुई और उसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। मधुपुर उपचुनाव लड़ने के सवाल पर पार्टी के प्रदेश प्रभारी जयप्रकाश नारायण यादव ने कहा कि, इसपर केंद्रीय नेतृत्व निर्णय लेगा। प्रस्ताव में बोर्ड, निगम और आयोग में पार्टी की मज़बूत हिस्सेदारी की बात कही गई है।

रिपोर्ट- शाहनवाज़

Monika

Monika

Next Story