UP की 16 पवित्र नदियों में विसर्जन को शुरू हुई ‘अटल अस्थि कलश यात्रा’

UP की 16 पवित्र नदियों में विसर्जन को शुरू हुई 'अटल अस्थि कलश यात्रा'

लखनऊ: यूपी की 16 अलग-अलग स्थानों की प्रमुख नदियों में पूर्व पीएम अटल बिहारी बाजपेयी की अस्थियों के विसर्जन के लिए प्रदेश भर में अस्थि कलश रथ शुक्रवार को शुरू हो गई। प्रदेश सरकार के मंत्रियों और पार्टी प्रदेश पदाधिकारियों को यह जिम्मेदारी दी गई है। सीएम योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष डा महेन्द्र नाथ पाण्डेय, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, डा दिनेश शर्मा व प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने पार्टी मुख्यालय पर अस्थि कलश विभिन्न पवित्र नदियों में विधि पूर्वक विसर्जित करने के लिए मंत्रियों एवं पदाधिकारियों को सौंपे।

गोरखपुर राजघाट राप्ती नदी— राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद व प्रदेश मंत्री कामेश्वर सिंह को सौंपा गया अस्थि कलश। सीएम योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में 25 अगस्त को अस्थि विसर्जन का कार्यक्रम होगा। काबीना मत्री स्वामी प्रसाद मौर्य भी रहेंगे।

वाराणसी गंगा नदी— राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी व प्रदेश उपाध्यक्ष लक्ष्मण आचार्य को दिया गया अस्थि कलश। प्रदेश अध्यक्ष डा महेन्द्र नाथ पाण्डेय की मौजूदगी में 25 अगस्त को वाराणसी में अस्थियों की विसर्जन का कार्यक्रम।

इलाहाबाद- संगम में अस्थियों के विसर्जन के लिए राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डा महेन्द्र सिंह व पार्टी के प्रदेश मंत्री अमर पाल मौर्य को दिया गया कलश। डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की उपस्थिति में 25 अगस्त को विसर्जन का कार्यक्रम होगा।

अयोध्या-सरयू नदी— राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव व पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष अक्षयवर लाल गौड़ को अस्थि कलश सौंपा गया। डा दिनेश शर्मा व राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनुपमा जायसवाल की उपस्थिति में अस्थियों का विसर्जन।

झांसी-बेतवा नदी— राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्र देव सिंह व पार्टी के प्रदेश मंत्री प्रकाश पाल को अस्थि कलश सौंपा गया। 25 अगस्त को केन्द्रीय मंत्री उमाभारती व काबीना मंत्री सतीश महाना, राज्यमंत्री मुन्नू कोरी की उपस्थिति में अस्थियों का विसर्जन होगा।

बिठूर-कानपुर गंगा नदी— राज्यमंत्री मोहसिन रजा व पार्टी के प्रदेश मंत्री देवेश कोरी को अस्थि कलश दिया गया। काबीना मंत्री सुरेश खन्ना, सत्यदेव पचौरी, सतीश महाना व राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अर्चना पाण्डेय की उपस्थिति में अस्थियों का विसर्जन होगा।

UP की 16 पवित्र नदियों में विसर्जन को शुरू हुई ‘अटल अस्थि कलश यात्रा’

चित्रकूट स्थित मंदाकिनी नदी—राज्यमंत्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह ‘धुन्नी सिंह’ व पार्टी के प्रदेश मंत्री सुब्रत पाठक को अस्थि कलश सौंपा गया। 25 अगस्त को प्रदेश के केन्द्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति व काबीना मंत्री धर्मपाल सिंह की उपस्थिति में अस्थि विसर्जन।

गढमुक्तेश्वर-ब्रज घाट गंगा नदी—अस्थियों के विसर्जन के लिए कलश राज्यमंत्री अतुल गर्ग व पार्टी के प्रदेश मंत्री देवेन्द्र सिंह चौधरी को दिया गया। 25 अगस्त को प्रदेश के काबीना मंत्री श्रीकांत शर्मा व चेतन चौहान की मौजूदगी में अस्थि विसर्जन।

मुरादाबाद-रामगंगा नदी— राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भूपेन्द्र चौधरी व पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष नबाव सिंह नागर को अस्थि कलश सौंपा गया। 25 अगस्त को केन्द्रीय राज्यमंत्री डा महेश शर्मा व प्रदेश की राज्यमंत्री गुलाबो देवी की मौजूदगी में अस्थियों के विसर्जन का कार्यक्रम होगा।

सोरो (कांसगंज)— अस्थि कलश राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सुरेश राणा व पार्टी के प्रदेश मंत्री धर्मवीर प्रजापति को दिया गया। 25 अगस्त को पूर्व केन्द्रीय मंत्री कलराज मिश्र व राज्यमंत्री संदीप सिंह की उपस्थिति में अस्थियों के विसर्जन का कार्यक्रम होगा।

बरेली-रामगंगा नदी—अस्थियों के विसर्जन के लिए कलश राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख व पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष बीएल वर्मा को सौंपा गया। 25 अगस्त को केन्द्रीय राज्यमंत्री संतोष गंगवार व काबीना मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण की उपस्थिति में अस्थियों के विसर्जन का कार्यक्रम।

 

सहारनपुर-सरसावां यमुना नदी— अस्थियों के विसर्जन के लिए कलश राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्म सिंह सैनी व पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष जसवंत सैनी को दिया गया। 25 अगस्त को पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा लक्ष्मीकांत बाजपेयी की मौजूदगी में अस्थियों के विसर्जन का कार्यक्रम होगा।

आजमगढ़-तमसा नदी—अस्थि कलश राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेन्द्र तिवारी व पार्टी के प्रदेश मंत्री संजय राय को सौंपा गया। 25 अगस्त को केन्द्रीय राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनोज सिन्हा व काबीना मंत्री दारा सिंह चौहान की मौजूदगी में अस्थियों के विसर्जन का कार्यक्रम होगा।

बस्ती-अमहट घाट कुआना नदी—अस्थियों के विसर्जन के लिए कलश राज्यमंत्री सुरेश पासी व पार्टी के प्रदेश मंत्री त्रयम्बक त्रिपाठी को दिया गया। 25 अगस्त को पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा रमापति राम त्रिपाठी व काबीना मंत्री जय प्रताप सिंह की उपस्थिति में अस्थियों के विसर्जन का कार्यक्रम होगा।

मिर्जापुर-गंगा नदी—अस्थियों के विसर्जन के लिए कलश राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) अनिल राजभर व पार्टी के प्रदेश मंत्री कौशलेन्द्र पटेल को सौंपा गया। 25 अगस्त को राष्ट्रीय महामंत्री अरूण सिंह व केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री शिव प्रताप शुक्ला की उपस्थिति में अस्थियों के विसर्जन का कार्यक्रम होगा।

बलरामपुर-राप्ती नदी—अस्थियों के विसर्जन के लिए कलश काबीना मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा व पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष पदमसेन चौधरी को सौंपा गया। 24 अगस्त को ही काबीना मंत्री सूर्य प्रताप शाही व रमापति शास्त्री की माजूदगी में विसर्जन कार्यक्रम।