Top

बेल्जियम की अदालत ने फेसबुक पर लगाया 1,000 करोड़ का जुर्माना

aman

amanBy aman

Published on 19 Feb 2018 10:42 AM GMT

बेल्जियम की अदालत ने फेसबुक पर लगाया 1,000 करोड़ का जुर्माना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: दिग्गज सोशल नेटवक्रिंग साइट फेसबुक पर बेल्जियम की एक कोर्ट ने प्राइवेसी कानून का उल्लघंन करने पर 56 मिलियन डॉलर लगभग 1,000 करोड़ का जुर्माना लगाया है। अदालत का कहना है कि फेसबुक अगर पहले की तरह लगातार प्राइवेसी कानून का उल्लंघन करके थर्ड पार्टी वेबसाइट को ट्रैक करता रहा तो उसे हर दिन जुर्माना देना होगा। बेल्जियन कोर्ट ने फेसबुक से यूजर्स का डेटा कलेक्ट करने से मना किया है और हर दिन 2 लाख 50 हजार यूरो जुर्माना देने को कहा है।

अदालत ने कहा, कि फेसबुक हमें पूरी यूजर डेटा कलेक्ट करने के बारे में अधूरी जानकारी देता है और ये भी नहीं बताता कि वो किस तरह का डेटा कलेक्ट करता है? और उस डेटा का क्या किया जाता है? उसे कितने दिनों तक के लिए स्टोर रखा जाता है? अदालत के अनुसार फेसबुक यूजर्स की जानकारी स्टोर करने के लिए यूजर्स की मर्जी की भी कोई परवाह नहीं करता है।

अदालत ने फेसबुक को आदेश दिया है, कि बेल्जियम के नागरिकों का जितना भी डेटा अवैध तरीके से स्टोर किया गया है, उसे डिलीट किया जाए। इनमें उन लोगों का भी डेटा शामिल है, जो सोशल नेटवर्क का इस्तेमाल ही नहीं करते हैं। दूसरी ओर, फेसबुक का कहना है कि कंपनी कोर्ट के इस फैसले से निराश है और अपील करेगी। फेसबुक के मुताबिक कूकीज और पिक्सल को वो यूज करती है वो इंडस्ट्री स्टैंडर्ड टेक्नलॉजी के होते हैं और इसे लाखों बिजनेस को आगे बढ़ने में मदद मिलती है।

aman

aman

अमन कुमार, सात सालों से पत्रकारिता कर रहे हैं। New Delhi Ymca में जर्नलिज्म की पढ़ाई के दौरान ही ये 'कृषि जागरण' पत्रिका से जुड़े। इस दौरान इनके कई लेख राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय और कृषि से जुड़े मुद्दों पर छप चुके हैं। बाद में ये आकाशवाणी दिल्ली से जुड़े। इस दौरान ये फीचर यूनिट का हिस्सा बने और कई रेडियो फीचर पर टीम वर्क किया। फिर इन्होंने नई पारी की शुरुआत 'इंडिया न्यूज़' ग्रुप से की। यहां इन्होंने दैनिक समाचार पत्र 'आज समाज' के लिए हरियाणा, दिल्ली और जनरल डेस्क पर काम किया। इस दौरान इनके कई व्यंग्यात्मक लेख संपादकीय पन्ने पर छपते रहे। करीब दो सालों से वेब पोर्टल से जुड़े हैं।

Next Story